रोचक खबरें

न शहनाई,न बैंड बाजा फिर भी दुल्हन ले आए दुल्हे राजा

सादुलपुर,अविनाश के.आचार्य।  आज के भौतिक युग की चकाचौंध एवं विवाह  शादियों में दिखावटी फिजूल खर्चा तथा एक ही रोग क्या कहेगें लोग इन  सबको दर किनार  करते  हुए न शहनाई  गूंजी ओर नही बैंड बाजा फिर भी दुल्हन ले आए दुल्हे राजा। ऐसा ही अनूठा उदाहरण सैन नाई समाज में प्रस्तुत किया है राजगढ़ नगरपालिका मेे कार्यरत चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी कर्तव्य निष्ठ समाज सेवक चम्पालाल श्रीमति संतोष रानी नाई के सुपुत्र चि.विकास नाई का शुभविवाह सौ.का.सुमन पुत्री बजरंग लाल श्रीमति पुष्पा देवी सैन निवासी तारानगर के साथ बिना दहेज, बिना फिजूल खर्च के सादगी के साथ सआनन्द सम्पन्न हुआ। इस आदर्श सादगी पूर्ण विवाह में दुल्हे के ताऊ किशनलाल, नाना घनश्याम गोठ्या बड़ी, जेष्ठ भ्राता वेदप्रकाश, जीजा राजेश, करण, संदीप एवं दुल्हन सुमन के ताऊ फूलचन्द, ओमप्रकाश, शुभकरण, मामा नागरमल, भ्राता नरेश, मोहरसिंह सहित दोनो परिवार के पुरूष-महिला बच्चो के अलावा मित्रगण, शुभचिन्तको ने इस अनूठी शादी की मुक्तकंठ से सराहना की। ध्यान रहे कि सादगी के साथ हुई शादी से सैन समाज सहित अन्य समाज को भी प्रेरणा मिलेगी। साप्ताहिक चूरू सेवन स्टार श्रीआचार्य परिवार इस आदर्श  शादी  के आयोजन पर दुल्हा-दुल्हन को आशीर्वाद ओर दोनो परिवारो को हार्दिक बधाईयां देता है।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *



Most Popular

To Top