जोधपुर

कृति भारती को पीएचडी उपाधि

Ph.D. degree to Kriti Bharti

जोधपुर। जयनारायण व्यास विश्वविद्यालय के मनोविज्ञान विभाग की शोधार्थी कृति भारती को पीएचडी की उपाधि प्रदान की गई है। कृति भारती ने विभाग की पूर्व विभागाध्यक्ष प्रोफेसर आशा किनरा के निर्देशन में ए स्टडी आॅफ साइकोसोशल सिक्योरिटी, एन्जाइटी, फ्रस्ट्रेशन एंड एडजस्टमेंट आॅफ चिल्ड्रन इन नीड आॅफ केयर एंड प्रोटेक्शन विषय पर शोध कार्य पूर्ण किया है। किशोर न्याय अधिनियम के देखरेख एवं संरक्षण के जरूरतमंद समस्त बालकों पर समेकित तौर पर गहन शोध कार्य देश में पहली बार किया गया है।

कृति भारती ने उक्त शोध कार्य में लैंगिक शोषण से पीडित बच्चों, बाल विवाह पीडित बच्चों, एचआईवी ग्रस्त बच्चों, मादक पदार्थों की जद में आए बच्चों, अनाथ एवं विकलांग आदि बच्चों पर गहन मनोवैज्ञानिक शोध कार्य किया है। शोध में उक्त समस्त श्रेणियों के बच्चों का विशिष्ट व तुलनात्मक मनोवैज्ञानिक अध्ययन कर विभिन्न समस्याओं को रेखांकित किया है। वहीं शोध कार्य में इन बच्चों के बेहतर विकास, मुख्य धारा से जोडने व बेहतर पुनर्वास के संबंध में सुझाव व अनुशंषाएं भी की गई है।

पुनर्वास मनोवैज्ञानिक कृति भारती को महिला एवं बाल कल्याण के सामाजिक क्षेत्र में कार्य के लिए मारवाड रत्न, मेवाड रत्न सहित कई राष्ट्रीय व अन्तर्राष्ट्रीय पुरस्कारों से नवाजा जा चुका है। कृति भारती का नाम वर्ल्ड रिकाॅर्ड्स इंडिया, यूनिक वर्ल्ड रिकाॅर्ड्स , इंडिया बुक आॅफ रिकार्ड्स, लिम्का बुक आॅफ रिकाॅर्ड्स सहित कई रिकाॅर्ड्स  में भी दर्ज है।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Most Popular

To Top