देश

सुंजवान में सेना का ऑपरेशन जारी, कश्मीर में CRPF कैंप पर हमले की कोशिश नाकाम

जम्मू। जम्मू शहर के सुंजवान सेना कैंप पर जैश आतंकियों द्वारा किए गए हमले के 52 घंटे बाद भी सेना का ऑपरेशन जारी है। इधर, जम्मू एवं कश्मीर में यहां सोमवार को केंद्रीय रिजर्व पुलिस (सीआरपीएफ) के शिविर पर हमला करने के मकसद से आए आतंकवादियों पर एक चौकस संतरी ने गोलीबारी करके उन्हें भागने पर मजबूर कर दिया गया, जिससे संभावित हमला टल गया। जानकार सूत्रों ने कहा, संतरी ने करण नगर इलाके में तडक़े 4.30 बजे के आसपास दो आतंकवादियों को बैग और एक-47 राइफल्स के साथ सीआरपीएफ के 23 बटालियन शिविर में घुसने की कोशिश करते देखा था। शिविर के आसपास के इलाकों में खोज जारी है।

सुंजवान के आर्मी कैंप पर हमला करने वाले 4 आतंकियों को सेना ने मार गिराया। वहीं, हमले में 5 जवान शहीद हो गए और एक सिविलियन की भी मौत हो गई। रविवार देर रात सेना ने सुंजवान कैंप में क्लिनिंग ऑपरेशन शुरू कर दिया था। यह ऑपरेशन सोमवार को भी जारी बताया जा रहा है। इससे पहले रविवार को सेना प्रमुख जनरल बिपिन रावत आतंक रोधी सैन्य कार्रवाई का जायजा लेने घटनास्थल पर पहुंचे।

सैन्य कार्रवाई मे अब तक चार आतंकवादी मारे गए है। वहीं, इस कार्रवाई में पांच सैनिक शहीद हो गए। सभी सैनिक जम्मू एवं कश्मीर के थे। एक सैनिक के पिता की भी मृत्यु हो गई। सेना के मुताबिक सभी आतंकवादियों ने सेना की वर्दी पहन रखी थी। उनके कब्जे से एके-56 राइफलें, अंडर बैरल ग्रेनेड लांचर, हथियार और ग्रेनेड मिले हैं। हमले में छह महिलाओं और बच्चों सहित 10 अन्य घायल हो गए हैं। गंभीर रूप से घायल एक गर्भवती महिला को बचाने के लिए सेना के डॉक्टरों ने रात भर उसका उपचार किया।

महिला ने ऑपरेशन के बाद एक बच्ची को जन्म दिया। सिर में गोली लगने से घायल एक 14 वर्षीय लडक़े की हालत स्थिर बनी हुई है। आपको बता दें कि भारी हथियारों से लैस आतंकवादियों ने शनिवार तडक़े 4.45 बजे सुंजवान सेना शिविर पर धावा बोल दिया था। इस हमले के लिए पाकिस्तान के आतंकवादी संगठन जैश-ए-मोहम्मद को जिम्मेदार माना गया। आतंकवादी जूनियर कमिशंड ऑफिसर्स (जेसीओ) क्वार्टर में उस समय घुस आए थे, जब सभी सो रहे थे।

 

 

 

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *



Most Popular

To Top