रोचक खबरें

मुस्लिम महिलाओं ने माना मस्जिद में हुई अश्लील हरकतें

#MeToo कैंपेन के बारे में आप लोगो ने सुना ही होगा. बीते एक साल से यह हैशटैग दुन्या भर की महिलाओं के लिए मसीहा बन गया है, या यु कहे कि महिलाओं कि दबी हुई आवाज को एक जरिया मिल गया है जहा वो अपनी दर्दभरी दास्ताँ सुना सकती है.दुनियाभर की महिलाएं पुरुष अपने साथ हुए यौन उत्पीड़न की कहानियां #MeToo पर शेयर करते हैं.

अब इसी इसी से जुड़ा एक नया हैशटैग #MosqueMeToo चर्चा में आ गया है. दरअसल, इस हैशटैग के साथ महिलाएं मस्जिद जैसे पवित्र धार्मिक स्थल पर यौन उत्पीड़न की कहानियां सुना रही है. #MosqueMeToo हैशटैग के जरिए दुनियाभर की महिलाएं अपने साथ धर्मस्थल के आसपास हुई यौन उत्पीड़न की घटनाओं को शेयर कर रही हैं. #MosqueMeToo कि शुरुआत की कहानी भी बेहद दिलचस्प हैं, दरअसल यह हैशटैग तब शुरू हुआ जब लेखिका पत्रकार मोना एल्ताहवी ने अपने साथ हज के दौरान हुई यौन उत्पीड़न की घटना को शेयर किया. उन्होंने कहा- मेरी कहानी पढ़ने के बाद एक मुस्लिम महिला ने अपनी मां के साथ हज के दौरान हुई यौन उत्पीड़न की घटना को लिखकर मुझे मेल किया. महिला ने लिखा कि जब मैं दिल्ली के जामा मस्जिद में गई तो एक शख्स ने मेरी छाती छूने की कोशिश की. उन्होंने कहा कि मैंने इसके बारे में किसी से बात नहीं की, क्योंकि लोगों को लगता कि मैं इस्लामोफोबिया का समर्थन कर रही हूं.

इसी तरह एक महिला ने लिखा कि सऊदी अरब के मस्जिद नबावी से कुछ ही फीट की दूरी पर एक शख्स ने उनका हाथ जोर से पकड़ लिया था उन्हें ऊपर से नीचे तक देखने लगा, महिला ने लिखा कि धर्मस्थलों पर जाने से पहले महिलाओं को चेतावनी दी जाती है. जब मेरी मां तवाफ कर रही थी तब पापा उसके पीछे खड़े होकर उसकी रक्षा कर रहे थे.

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *



Most Popular

To Top