रोचक खबरें

Research : क्या सच में मटन, चावल और पूड़ी खाने से भी आती है नींद ?

आपने अक्सर लोगों को कहते सुना होगा कि खाना खाने के बाद नींद बहुत आती है. ऐसा कई बातों में सच भी है लेकिन हर किसी के साथ ऐसा हुआ हो ये जरूरी तो नहीं. चावल, मटन और पूड़ी खाने के बाद लोगों को ज्यादा नींद आने की शिकायतें होती हैं. रिसर्च में भी ये साबित हुआ कि पश्चिमी जगत में भी ऐसी शिकायतों के कई किस्से सामने आए लेकिन सवाल ये है कि क्या ऐसा होता है ?

रिसर्च में हुआ साबित :

भारत में नींद पर इस टॉपिक को लेकर कोई रिसर्च नहीं हुए लेकिन पश्चिमी देशों में इन सवालों को जानने के लिए कई रिसर्च हुए. अमेरिका में इसी तरह का एक रिसर्च में साबित हुआ कि हां खाने के बाद नींद आती है खासतौर पर पूड़ी, चावल या नॉनवेज. उस रिसर्च में टर्की के मीट में एल-ट्रिपटोफान केमिकल बड़ी मात्रा में पाया जाता है. अंडे की जर्दी, कॉड फिश में भी एल-ट्रिपटोफान बहुत पाया जाता है. जिससे नींद आती है.

अमीनो एसिड भी होती है नींद का कारण :

सही रूप में एल-ट्रिपटोफान एक अमीनो एसिड है जिससे प्रोटीन का निर्माण होता है. प्रोटीन से कोशिकाएं बनती हैं जो हमारे शरीर के विकास के लिए बहुत जरूरी है लेकिन इस केमिकल का निर्माण हमारे शरीर के अंदर नहीं होता. हम इसे खान-पान से ही हासिल कर सकते हैं. अमीनो एसिड की मदद से सेरोटिनिन का निर्माण नाम का केमिकल बनता है. अमीनो एसिड के कारण ही हमारे अंदर नींद आती है.

इस वजह से आती है नींद :

सच तो ये है कि सेरोचिनिन के कारण मधुमक्खियों को नींद आने लगती है इससे ये अनुमान लगाया गया कि एल-ट्रिपटोफान और उससे जनित सेरोटिनिन का असर इंसानों में दिखता है. साल 2002 में हुए रिसर्च के मुताबिक शरीर में एल-ट्रिपटोफान अमीनो एसिड की वजह से हमारी नींद खराब भी होती है और आती भी है.

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *



Most Popular

To Top