देश

पैरा कमांडोज ने संभाला मोर्चा, आर्मी कैंप में छिपे आतंकियों को चारों ओर से घेरा

जम्मू। जम्मू के एक सैन्य शिविर में शनिवार तडक़े घुस आए चार से पांच हथियारबंद आतंकवादियों को चारों ओर से घेर लिया गया है। ये आतंकवादी बाद में जेसीओ क्वार्टर में भी घुस गए थे। सुरक्षाबल आतंकवादियों को चारों ओर से घेरकर हर कमरे की छानबीन कर रहे हैं। सैन्य सूत्रों ने बताया, जूनियर कमिशन अधिकारियों की इमारत में घुस आए आतंकवादियों के सफाए के लिए हर कमरे की छानबीन की जा रही है। आतंकियों के खिलाफ ऑपरेशन में सैनिकों के साथ अब पैरा कमांडोज भी शामिल हो गए हैं। हमले के फौरन बाद उधमपुर से आईएएफ के पैरा कमांडोज को जम्मू एयरलिफ्ट किया गया है।

खबर है कि उत्तर प्रदेश के सहारनपुर स्थित सरसावा बेस से भी पैरा कमांडो रवाना किए जा रहे हैं। सैन्य सूत्रों ने बताया, जूनियर कमिशंड अधिकारियों की इमारत में घुस आए आतंकवादियों के सफाए के लिए हर कमरे की छानबीन की जा रही है। इस हमले में 2 जवानों के शहीद होने की खबर है और करीब 6 अन्य घायल बताए जा रहे हैं। इससे पहले खबर आई थी कि इस हमले में एक जेसीओ गंभीर रूप से घायल हो गए हैं जबकि उनकी बेटी भी घायल हैं। जम्मू के सुंजवान सैन्य शिविर में शनिवार तडक़े लगभग 4.45 बजे आतंकवादी ग्रेनेड फेंकते हुए और भारी गोलीबारी करते हुए परिसर में घुस आए।

इससे पहले खुफिया रिपोर्टों में कहा गया था कि आतंकवादी संगठन जैश-ए-मोहम्मद के आतंकवादी संसद हमले के दोषी अफजल गुरु की पांचवीं बरसी पर हमले की योजना बना रहे थे। अफजल गुरु को नौ फरवरी, 2013 को तिहाड़ जेल में फांसी दी गई थी। सैन्य शिविर के आधे किलोमीटर के दायरे में आने वाले सभी शैक्षणिक संस्थानों को दिनभर के लिए बंद कर दिया गया है। जम्मू एवं कश्मीर विधानसभा के अध्यक्ष कविंद्र गुप्ता ने सैन्य शिविर के मुख्यद्वार तक का दौरा किया। साल 2006 में भी इसी सैन्य शिविर में आत्मघाती हमला किया गया था, जिसमें 12 जवान शहीद हो गए थे और दो फिदायीन आतंकवादी मारे गए थे।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *



Most Popular

To Top