खेल

डोपिंग उल्लंघन के लिए निलंबित हुए यूसुफ पठान, गले के संक्रमण से छुटकारा…

मुंबई। भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) ने डोपिंग उल्लंघन के लिए भारतीय क्रिकेट खिलाड़ी यूसुफ पठान को निलंबित कर दिया है। 35 वर्षीय यूसुफ के 57 वनडे में 810 रन व 33 विकेट और 22 टी20 में 236 रन व 13 विकेट हैं। हरफनमौला खिलाड़ी इरफान के बड़े भाई यूसुफ ने अंतिम बार मार्च 2012 में भारत का प्रतिनिधित्व किया था।

बीसीसीआई ने मंगलवार को जारी अपने बयान में कहा है कि यूसुफ को प्रतिबंधित पदार्थ के सेवन के लिए निलंबित किया गया है। यह पदार्थ आम तौर पर कफ सिरप (खांसी की दवा) में पाया जाता है। यूसुफ ने बीसीसाई के डोपिंग रोधी टेस्ट कार्यक्रम के दौरान 16 मार्च, 2017 को नई दिल्ली में घरेलू टी20 मैच के तहत यूरिन सेंपल दिया था। उनके इस सेंपल की जांच की गई और इसमें प्रतिबंधित पदार्थ टब्र्यूटेलिन की मात्रा पाई गई।

टब्र्यूटेलिन एक ऐसा पदार्थ है, जो विश्व डोपिंग रोधी एजेंसी (वाडा) की प्रतिबंधित दवाओं की सूची में शामिल है। इस मामले में यूसुफ पर 27 अक्टूबर, 2017 को बीसीसीआई विरोधी डोपिंग नियम (एडीआर) अनुच्छेद 2.1 के तहत एक डोपिंग विरोधी नियम उल्लंघन (एडीआरवी) का आरोप लगाया गया था और अस्थायी रूप से निलंबित किया गया था। यूसुफ ने डोपिंग रोधी नियम उल्लंघन की बात स्वीकार की और कहा कि उन्हें जो दवाई लिखी गई थी, उसके अलावा उन्हें कोई और दवाई दी गई, जिसमें टब्र्यूटेलिन की मात्रा शामिल थी।

यूसुफ ने हालांकि कहा कि उन्होंने जानबूझकर इस दवा का सेवन नहीं किया है और इसके सेवन का मकसद सिर्फ गले में जारी संक्रमण से छुटकारा पाना था, न कि अपने प्रदर्शन को सुधारना था। बीसीसीआई ने यूसुफ के स्पष्टीकरण को माना और इस बात को समझा कि अपर रेस्पाइरेटरी ट्रेक्ट इन्फेक्शन (यूआरटीआई) के इलाज के लिए उन्हें गलती से टब्र्यूटेलिन दिया गया।

इस बात को मानते हुए बीसीसीआई ने यूसुफ पर पांच माह का निलंबन लगाया है, जो 15 अगस्त, 2017 से लागू हुआ है और यह निलंबन 14 जनवरी, 2018 को समाप्त हो जाएगा। इस बीच घरेलू सत्र में खेले गए उनके मैचों के प्रदर्शन को भी रद्द किया जा सकता है।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *



Most Popular

To Top