रोचक खबरें

क्या आप भी खाते हैं पैरासिटामॉल, तो ये आपको जानना चाहिये

गर्भावस्था के दौरान किसी भी महिला को बेहद सावधान रहना होता है, क्योंकि ये केवल उसके लिए ही नहीं बल्कि उसके बच्चे के लिए बेहद घातक हो सकता है. आपको बता दें कि एक ताजा शोध में ये बात सामने आई है कि किसी भी गर्भवती महिला को पैरासीटामोल का सेवन नहीं करना चाहिए. ये उसके बच्चे के लिए बहुत ही घातक होता है.

ये तो आप जानते ही होंगे के पैरासीटामोल का इस्तेमाल बुखार और दर्द में राहत के लिए किया जाता है. इस बारे में स्कॉटलैंड के एडिनबर्ग विश्वविद्यालय के वैज्ञानिकों ने एक शोध के दौरान प्रयोगशाला में एक सप्ताह के लिए मानव अंडाशय को पैरासीटामोल के संपर्क में रखा. इसके बाद ये पाया कि करीब 40 फीसदी अंडाणु कोशिकाएं मृत हो गईं.

डेली मेल में छपी रिपोर्ट के अनुसार अगर इसका सीधा सा असर गर्भाशय पर पड़ता है तो इसका मतलब ये होगा कि अगर महिला के गर्भ में शिशु लड़की है तो उसमें अंडे कम बनेंगे. इसका असर ये होगा कि उस लड़को गर्भधारण के लिए कुछ ही साल मिल पाएंगे. इसी के साथ ही उसकी रजोनिवृत्ति भी जल्दी ही हो जाएगी.

इसका कारण ये है क्योंकि पैरासीटामोल और आईब्यूफेन हार्मोन प्रोस्टेग्लेडिन ई2 के स्राव में हस्तक्षेप करते हैं. यह हार्मोन भ्रूण के प्रजनन तंत्र के विकास में अहम भूमिका निभाता है.

एडिनबर्ग यूनिवर्सिटी के प्रोफेसर रिचर्ड शार्प ने बताया कि ‘यह शोध पैरासीटामोल या आईब्यूफेन लेने के संभावित खतरों को बताता है. हालांकि, हमें इसके सही असर के बारे में नहीं पता है कि यह मानव स्वास्थ्य पर क्या असर डालता है या इसकी कितनी मात्रा प्रजनन क्षमता पर असर डालती है.’

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *



Most Popular

To Top