विदेश

बहरीन में मोदी सरकार पर जमकर बरसे राहुल गांधी, कहा-संकट में है भारत

बहरीन। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने बहरीन में भारतीय को संबोधित करते हुए मोदी सरकार की नीतियों और काम करने की तरीकों पर जमकर हमला बोला। राहुल ने यह भी कहा कि संवेदनशील मामलों की जांच कर रहे जजों की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो रही है। बहरीन में ग्लोबल ऑर्गनाइजेशन ऑफ पीपुल ऑफ इंडिया ओरिजिन (जीओपीआईओ) की ओर से आयोजित कार्यक्रम में राहुल गांधी ने कहा कि भारत में इस समय रोजगार की समस्या है। भारत में पिछले आठ सालों में रोजगार का न्यूनतम स्तर हो गया है। उन्होंने कहा कि भारत इस समय संकट में है। मैं यहां आपका साथ पाने के लिए आया हूं। हमें गुस्से का डटकर सामना करना होगा।

जीओपीआईओ की ओर से आयोजित कार्यक्रम में में 50 देशों के प्रतिनिधियों ने शिरकत की। अध्यक्ष पद संभालने के बाद से राहुल का यह पहला विदेशी दौरा है। राहुल गांधी लोगों को संबोधित करने के बाद लोगों के सवालों का जवाब दे रहे हैं।

एक सवाल के जवाब में राहुल ने कहा कि मैं अपनी गलतियां भी मानता हूं। मैं इंसान हूं। हम सब गलतियां करते हैं। मीडिया में प्रचार एकतरफा होता है। इसके चलते अंतर है। कांग्रेस पार्टी जमीन पर लड़ रही है। गुजरात बीजेपी का गढ़ है। इस बार बीजेपी वहां बचकर निकली है। हम लड़ रहे हैं। हमारा उद्देश्य हिन्दुस्तान को एक विजन देने का है।

मैं इस बात में भरोसा रखता हूं कि अगर हमने हिन्दुस्तान को एक नई कांग्रेस पार्टी दे दी तो बीजेपी को आसानी से हराया जा सकता है। मनमोहन सिंह जी ने नोटबंदी के दिन कह दिया था कि 2 प्रतिशत जीडीपी का नुकसान होगा। बाद में यही हुआ। जीडीपी 2 प्रतिशत गिर गई।

कर्नाटक में हमारी अच्छी टीम तैयार है। हमारे चीफ मिनिस्टर वहां मजबूत नेता हैं। इस बार कांग्रेस ही वहां जीतेगी। 2019 में कांग्रेस की क्या तैयारी है, इस सवाल के जवाब में राहुल गांधी ने कहा कि बीजेपी तीन साल से सरकार में है। उससे पहले कांग्रेस पार्टी सरकार में थी। कांग्रेस पार्टी को लडऩा आता है। कांग्रेस पार्टी ने अंग्रेजों को हराया, हिन्दुस्तान को बदलने का काम किया, हिन्दुस्तान की जनता के साथ मिलकर काम किया। मैं आपको आश्वासन देता हूं कि इस पार्टी में इतनी शक्ति है कि वह 2019 में भाजपा को हरा देगी।

एक महिला ने राहुल गांधी से कहा कि भारत में रेप जैसी घटनाएं वतन लौटने से रोकती हैं। इस पर राहुल ने कहा कि भारत में ऐसी घटनाओं को रोकने के लिए प्रयास हो रहे हैं। ऐसी घटनाओं को रोकने के लिए महिलाओं को राजनीति में लाना होगा। संसद-विधानसभाओं में महिलाओं की सहभागिता बढ़ानी होगी। आपको भारत लौटने में डरना नहीं चाहिए। वहां हालात बदलेंगे।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *



Most Popular

To Top