रोचक खबरें

ये है बॉलीवुड की पहली स्टंटवुमन, गूगल ने डूडल बनाकर किया याद

बॉलीवुड की पहली स्टंटवुमन फियरलेस नाडिया है जिनका आज यानी 8 जनवरी को जन्मदिन है। इस मौके पर ऑस्ट्रेलियन मूल की भारतीय एक्ट्रेस नाडिया के 110वें बर्थडे पर गूगल ने डूडल बनाकर उन्हें याद किया। आपको शायद याद हो 2017 में आई विशाल भारद्वाज की फिल्म रंगून में कंगना का किरदार नाडिया से प्रेरित था। आज हम आपको उनकी जिंदगी से जुड़ी कुछ ऐसी बातें बताने जा रहे हैं जो आप नहीं जानते, कि कैसे वो बॉलीवुड की पहली स्टंट वुमन बनी।

1930-1950 के दशक में नाडिया बॉलीवुड की काफी मशहूर अभिनेत्री हुआ करती थी। इस दौरान उनकी आई कई फिल्मों की एक कॉमन बात ये थी कि उनके बेखौफ स्टंट जिससे वो बॉलीवुड की स्टंट क्वीन बन गई। उन्होंने हंटरवाली, डायमंड क्वीन, शेर दिल, तुफान क्वीन जैसी कई फिल्मों में स्टंट वुमन की भूमिका निभाई।

मेरी एन इवांस उर्फ निडर नाडिया का जन्म 8 जनवरी 1908 में पर्थ, पश्चिमी ऑस्ट्रेलिया हुआ में था। उनका मूल नाम मेरी एन इवांस था। वह मार्गरेट व स्कॉटलैंड के मूल निवासी हर्बट इवांस की बेटी थी। हर्बट ब्रिटिश सेना में एक स्वयंसेवक थे और भारत आने से पहले वे ऑस्ट्रेलिया में रहते थे। मेरी महज एक साल की थी जब उनके पिता के रेजिमेंट की बॉम्बे के लिये बदली कर दी गई। इस तरह मेरी 1913 में पांच साल की उम्र में अपने पिता के साथ बॉम्बे चली आईं।

लेकिन 1915 में प्रथम विश्व युद्ध के दौरान उनके पिता की मृत्यु हो गई। उस दौरान उनका परिवार पेशावर (अब पाकिस्तान) में जा बसा। यहां रहकर उन्होंने घुड़सवारी, शिकार, मछली पकड़ना और निशाना लगाना सीखा।

नाडिया ने अपने गुजर बसर करने के लिए सेल्सवुमन की नौकरी की। एक अच्छी नौकरी पाने के लिए वो शार्टहैंड व टाइपिंग भी सीखना चाहती थी। नाडिया सैन्य ठिकानों पर और भारतीय राजघरानों और आम लोगों के लिये धूल भरे छोटे कस्बों और गांवों में प्रदर्शन करती फिरती। यहीं से उन्होंने गुलाटी मारना (cartwheel) जैसे करतबों सीखें जो बाद में उन्हें बॉलीवुड में बहुत काम आए।

उसके बाद वो थिए​टरों में नाटक करने लेगी। पहली बार फिल्मों से उनका परिचय वाडिया मूविटोन के जे.बी.एच (जमशेद) वाडिया ने कराया। अविश्वास के बावजूद जमशेद ने नाडिया को देश दीपक और नूर-ए-यमन जैसी फिल्मों में छोटी मोटी भुमिकाए दीं। इनमें प्रसिद्धि पाने पर और सर्कस मे उनके कार्यानुभव को देखते हुये, जमशेद और उनके भाई ने नाडिया को स्टार बनाने का फैसला लिया और इस तरह वो बॉलीवुड की स्टंट वुमन बन गई।

1935 में आई फिल्म हंटरवाली नाडिया की सबसे पहली फिल्म थी जिसमें उन्हें बड़ी कामयाबी मिली। इसके बाद उनकी कई फिल्में आई जिनमें उन्हें एक के बाद एक सफतला मिलती गई।

नाडिया की मृत्यु महाराष्ट मुंबई में 9 जनवरी 1996 को 88 वर्ष की आयु में हुआ था।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *



Most Popular

To Top