राजस्थान

प्रसव मामले में कलेक्टर ने मानी लापरवाही, नर्स को किया एपीओ

करौली। जिले के मंडरायल रोड स्थित मातृ-शिशु इकाई में मानवता को शर्मसार करने के मामले में रविवार को खास खबर डॉट कॉम पर खबर प्रकाशित होने पर जिला प्रशासन ने तुरंत हकरत में आकर कार्रवाई की। इस संबंध में खास खबर डॉट कॉम पर खबर प्रकाशित कर बताया गया कि शनिवार को मातृ-शिशु इकाई में एक महिला के प्रसव के दौरान भारी लापरवाही बरती गई। इस पूरी घटना का वीडियो भी वायरल हुआ था।

इस पर करौली जिला कलेक्टर अभिमन्यु कुमार ने मामले को गंभीरता से लेते हुए प्रमुख चिकित्सा अधिकारी डॉक्टर श्रीराम मीणा को कार्रवाई करने के निर्देश दिए। इसके बाद डॉक्टर श्रीराम मीणा ने नर्स सरिका शर्मा को एपीओ कर दिया और मामले की जांच के लिए तीन सदस्यीय कमेटी का गठन किया है। फिलहाल प्रसूता और बच्चा दोनों स्वस्थ हैं।

यह था मामला

मंडरायल रोड स्थित मातृ-शिशु इकाई में प्रसव के लिए दर्द से कराह रही महिला को अंदर नहीं लिया गया। जब गर्भवती महिला के परिजन नर्स से पीड़िता को अंदर लेने के लिए बोल रहे थे तो नर्स ने परिजनों से अभद्र व्यवहार किया और प्रसूता को अंदर नहीं लिया। इस दौरान लेवर रूम के बाहर ही महिला का प्रसव हो गया, लेकिन नर्स को जरा भी दया नहीं आई। इस खबर को खास खबर डॉट कॉम ने प्रमुखता से प्रकाशित किया।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *



Most Popular

To Top