क्राइम

वाहन चोर गिरोह का भंडाफोड़,7 आरोपियों को पुलिस ने दबोचा

फरीदाबाद। हरियाणा पुलिस ने फरीदाबाद में वाहन चोर गिरोह का भंडाफोड़ किया है और गिरोह के 7 आरोपियों को गिरफ्तार करने में सफलता हासिल की है। पुलिस ने गिरोह को पकडऩे से ही वाहन चोरी की 44 वारदातों को सुलझाने में कामयाबी हासिल की है तथा गिरोह से 32 मोटरसाइकिल, 5 स्कूटी, 2 कैंटर, 4 कार तथा एक अवैध हथियार को बरामद करने में भी सफलता हासिल की है।

इस संबंध में जानकारी देते हुए पुलिस प्रवक्ता ने बताया कि पुलिस टीम ने अंतर्राज्जीय वाहन चोर गिरोह का भंडाफोड करते हुए गिरोह के 6 आरोपियों को गिरफतार करने में कामयाबी हासिल की हैै। उन्होंने पकड़े गये आरोपियों का ब्यौरा देते हुए बताया कि पकड़े गए आरोपियों में इखलाख पुत्र जफरू निवासी गांव सुदाका जिला नूहॅ मेवात, नदीम पुत्र खलील निवासी फतेहपुर तंगा, अमित पुत्र चंद्रपाल निवासी गांव मंडनाका जिला पलवल, अभिषेक पुत्र सुभाष निवासी गांव बुआपुर तिगांव फरीदाबाद, नरेश पुत्र जगदीश निवासी मकान नं0 8209 गली नं0 254 संजय कालोनी फरीदाबाद, सुमित पुत्र चंद्रास निवासी राजीव कालोनी फरीदाबाद और दलबीर पुत्र संतोष निवासी गांव पीपरोली गदिया जिला इटा यूपी शामिल है।

प्रवक्ता ने बताया कि पुलिस ने आरोपियों को फरीदाबाद के अलग-अलग क्षेत्रों से गिरफ्तार किया है। उन्होंने बताया कि आरोपियों में से ईकलाख, नदीम, अभिषेक, अमित इन वारदातों को अंजाम देने में मुख्य रूप से सक्रिय रहे है। उन्होंने बताया कि ईकलाख व नदीम से 18 वाहन बरामद किए है, जबकि अमित व अभिषेक से 15 वाहन बरामद किए गए है। इसी प्रकार, दलबीर आरोपी से 4 वाहन बरामद किए है तथा शेष वाहन अन्य से बरामद किए गए है।

उन्होंने बताया कि यह सभी आरोपी स्पेशल चाबी या पुरानी घिसी हुई चाबी को वाहन चोरी करने में इस्तेमाल करते थे। सभी आरोपी अपने जीवनयापन चलाने के लिए चोरी करते थे और दिन व रात के समय शहर में भिन्न-भिन्न स्थानों पर घुमकर जैसे दुकान, मकान, पार्क आदि स्थानों पर मालिक की गैर-मौजूदगी का फायदा उठाकर वारदात को अंजाम देते थे। उन्होंने बताया कि पूछताछ पर आरोपियों ने बताया कि वो शहर से मोटरसाइकल चोरी करके कुछ तो चलाकर लावारिस या जानकार वाले स्थान पर छोड़ देते थे या अधिकतर वाहनों को औने-पौने दामों पर मेवात क्षेत्र या अन्य स्थानों पर बेच देते थे तथा बड़ी गाडिय़ों को अन्य चोरी के काम में भी इस्तेमाल करते थे।

प्रवक्ता ने बताया कि नदीम व ईकलाख पिछले 4-5 साल से अपराध करने में सक्रिय है और कई बार जेल जा चुके है। गिरफ्तार किए गए आरोपियों में सबसे ज्यादा वाहन चोरी की वारदातों को नदीम द्वारा अंजाम दिया जाता रहा है। इनके अलावा आरोपी सुमित भी निमका जेल में रह चुका है। इसी प्रकार, नदीम पहले भी कई बार फरीदाबाद की क्राईम ब्रांचों द्वारा गिरफ्तार किया गया है। निमका जेल फरीदाबाद व तिहाड़ जेल दिल्ली में बंद रह चुका हैं। नदीम से पूर्व में भी काफी वाहन विशेषकर कारों की बरामदगी हुई है, जो पूराने वाहन चोरी करके कबाडियों को बेचकर कटवाता व खपाता रहा है।

उन्होंने बताया कि नदीम और ईकलाख पुलिस रिमांड पर है और शेष सभी आरोपियों को जेल भेजा जा चुका है।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *



Most Popular

To Top