राजस्थान

हैडकांस्टेबल रिश्वत के नोट गिन रहा था, एसीबी की भनक लगी तो रूपये फेंककर नंगे पैर ही भागा

जयपुर। राजस्थान के प्रतापगढ़ जिले में एसीबी ने बड़ी कार्रवाई करते हुए एक हैडकांस्टेबल को 30 हजार रूपये की रिश्वत लेते हुए रंगे हाथों गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार आरोपी सुंदरलाल मीणा है जो पारसोला थाना में कार्यरत है। यह कार्रवाई उपाधीक्षक गुलाब सिंह के नेतृत्व में की गई।

जानकारी के मुताबिक पारसोला गांव के परिवादी महिपाल और मुकेश जैन के खिलाफ एसटीएससी एक्ट के तहत मामला चल रहा था। मामले की जांच उपाधीक्षक धरियावाद कर रहे हैं। आरोपी हैडकांस्टेबल सुंदरलाल डीएसपी के यहां पर रिडर के पद पर कार्यरत है। आरोपी ने मामले में से दोनों परिवादी का नाम हटाने की एवज में 30 हजार रूपये की रिश्वत मांगी।

इस पर परिवादी ने एसीबी में शिकायत कर दी, जिसका एसीबी ने 8 दिंसबर को सत्यापन कराया। योजना के तहत आज आरोपी ने परिवादी को मांडवी-धरियावाद रोड पर रिश्वत के 30 हजार रुपए लेकर अपने किराए के मकान पर बुलाया।

खास बात ये है कि जिस समय आरोपी सुंदरलाल रिश्वत के दी हुई रकम को गिन रहा था तो अचानक उसे एसीबी ट्रेप होने की भनक लग गई। इतना होती ही आरोपी हैडकांस्टेबल परिवादी को धक्का देकर बाहर आ गया। आरोपी ने इस दौरान रिश्वत की राशि भी वहीं फेंक दी। अपनी बाइक स्टार्ट कर भागने लगा। लेकिन किस्मत तो देखिए, आरोपी की बाइक स्टार्ट नहीं हुई। इस पर आरोपी नंगे पांव ही पैदल भागने लगा। लेकिन एसीबी की टीम ने आरोपी को दबोच लिया।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *



Most Popular

To Top