क्राइम

किशोरी से दुष्कर्म के बाद जिंदा जलाया, हालत गंभीर

मध्य प्रदेश में बालिकाओं, नाबालिग और युवतियों से छेड़छाड़ व दुष्कर्म की घटनाएं थमने का नाम नहीं ले रही हैं। सागर जिले में गुरुवार रात को दो युवकों ने आठवीं कक्षा की छात्रा के साथ दुष्कर्म किया। किशोरी के शोर मचाने पर युवकों ने उसके ऊपर मिट्टी का तेल डालकर आग लगा दी। किशोरी की हालत गंभीर बनी हुई है।

भानगढ़ थाने में पदस्थ उपनिरीक्षक (सब इंस्पेक्टर) और जांच अधिकारी महेंद्र सिंह धाकड़ ने शुक्रवार को आईएएनएस को बताया, “देवल गांव में गुरुवार रात को किशोरी अपने घर पर अकेली थी तभी दो युवक वहां पहुंचे और उससे छेड़छाड़ करने लगे। आरोप है कि बाद में किशोरी को आग के हवाले कर दिया गया। किशोरी की हालत गंभीर है और उसे सागर के चिकित्सा महाविद्यालय अस्पताल में भर्ती कराया गया है। पुलिस दोनों आरोपियों की तलाश कर रही है।”

किशोरी के चाचा ने संवाददाताओं को बताया, “उनकी भतीजी घर पर अकेली थी तभी राघवेंद्र व शुभम नाम के दो युवक आए। दोनों ने किशोरी से छेड़छाड़ और दुष्कर्म किया। किशोरी के शोर मचाने पर आरोपियों ने उस पर मिट्टी का तेल डालकर आग लगा दी। वह किसी तरह घर से बाहर निकली तो पड़ोसियों ने आग बुझाई। उसकी हालत गंभीर है।”

गौरतलब है कि राष्ट्रीय अपराध रिकॉर्ड ब्यूरो (एनसीआरबी) के पिछले दिनों जारी हुए आंकड़ों में भी इस बात का खुलासा हुआ कि महिलाओं संग दुष्कर्म के मामले में मध्य प्रदेश पूरे देश में अव्वल है। राज्य में दुष्कर्म के आरोपियों को फांसी की सजा के प्रावधान का विधेयक विधानसभा में पारित हो चुका है, जिसे राष्ट्रपति को भेजा जा रहा है। इस विधेयक पर चर्चा के दौरान कई सदस्यों ने आशंका जताई थी कि अब आरोपी साक्ष्य मिटाने का प्रयास करेंगे अर्थात पीड़िता को ही मार डालेंगे।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *



Most Popular

To Top