राजनीति

गुजरात विधानसभा चुनाव 2017 भविष्यवाणी

गुजरात चुनाव 2017 में अब बहुत समय नहीं बचा है 9 दिसंबर को प्रथम चरण का मतदान होगा तो 14 दिसंबर को दूसरे व अंतिम चरण का। 18 दिसंबर को यह पता चल जायेगा कि गुजरात की जनता ने भारतीय जनता पार्टी की सरकार पर भरोसा बरकरार रखा है या फिर दलित व पाटीदार के विरोध में कांग्रेस प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के विकास मॉडल गुजरात पर काबिज होगी। बहरहाल वोटिंग जब होगी तब होगी, नतीजे जब आयेंगें तब आयेंगें, गुजरात की जनता जिसे जिताएगी उसे जिताएगी, इन सबसे पहले हम आपको बता रहे हैं कि गुजरात चुनाव में किसकी लगेगी लंका और किसका बजेगा डंका। राजनीतिक विश्लेष्ण नहीं बल्कि हम आपको ज्योतिष शास्त्र के नज़रिये से बता रहे हैं कि भारतीय जनता पार्टी, इंडियन नेशनल कांग्रेस, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी व राहुल गांधी की जन्मकुंडलियों के आधार पर ग्रहों का साथ किसे मिलता नज़र आ रहा है।

 

भारतीय जनता पार्टी की कुंडली

स्थापना दिवस के अनुसार भारतीय जनता पार्टी की राशि वृश्चिक बनती है। वर्तमान में जनता के कारक शनि दूसरे स्थान में गोचर कर रहे हैं जो कि पार्टी के पथ को थोड़ा कठिन बना रहे हैं। दलित एवं पाटीदारों का विरोध इसी के नतीजे के रूप में देखा जा सकता है। वहीं शनि की साढ़ेसाती का भी अंतिम चरण भाजपा की राशि पर चल रहा है। हालांकि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की कुंडली भी वृश्चिक राशि की है जिससे पार्टी पूर्णत: प्रधानमंत्री का समर्थन कर रही है व उनके मार्ग पर चल रही है।

कांग्रेस पार्टी की कुंडली

कांग्रेस के स्थापना दिवस को देखा जाये तो सबसे पुरानी सियासी पार्टी होने का गौरव इस पार्टी के पास है। कांग्रेस पार्टी की राशि कन्या है जिस पर फिलहाल शनि की ढ़ैय्या की शुरुआत हुई है। जनता के कारक शनि वर्तमान में चौथे घर में विराजमान हैं जिनके साथ राशि स्वामी बुध भी वक्री होकर गोचर कर रहे हैं। माहौल कांग्रेस के पक्ष में बनता हुआ तो नज़र आ सकता है लेकिन लक्ष्य को पाना कांग्रेस के लिये भी आसान नहीं है।

नरेंद्र मोदी की कुंडली

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की कुंडली वृश्चिक लग्न व वृश्चिक राशि की है। वर्तमान में इन पर चंद्रमा की महादशा है जो कि भाग्य की दशा भी है। अक्तूबर से इन पर बुध की अंतर्दशा शुरु हुई है। चंद्रमा की दशा से देखा जाये तो चंद्रमा मंगल की राशि में मंगल के साथ गोचर कर रहे हैं जो कि नीच भंग राजयोग बना रहे हैं साथ ही चंद्र मंगल सौभाग्यलक्ष्मी योग भी निर्मित कर रहे हैं। महादशा के चंद्रमा जहां इनके लिये कार्यों में सहयोग कर रहे हैं तो वहीं चंद्रमा को अपना शत्रु मानने वाले बुध की अंतर्दशा इनके कार्यों में बाधाएं भी पैदा कर रही है। हालांकि जन्मकुंडली में बुध का लाभ घर में स्वराशिगत होकर सूर्य के साथ बुधादित्य योग का निर्माण करना इसके कुप्रभाव को निष्प्रभावी भी कर सकता है। लेकिन बावजूद इसके वर्तमान समय के चुनौतिपूर्ण होने से इंकार नहीं किया जा सकता। इस समय इनकी राशि पर शनि की साढ़ेसाती का भी अंतिम चरण चल रहा है जो कि 2019 तक रहने के आसार हैं। यह इनके रास्ते में अड़चनें लेकर आ रहे हैं हालांकि ज्योतिषशास्त्रियों का यह भी मानना है कि जाते-जाते शनि लाभ अवश्य देकर जाते हैं।

राहुल गांधी की कुंडली

वहीं राहुल गांधी की कुंडली बात करें तो (19 जून 1970 दोपहर बाद 2:28 बजे के समयानुसार) वह तुला लग्न व धनु राशि की बनती है। (इनके जन्म समय को लेकर मतभेद हैं जिससे इनकी राशि बदल जाती) वर्तमान में राहुल गांधी पर मंगल की महादशा तो शुक्र का अंतर व शनि का प्रत्यंतर चल रहा है। इनकी कुंडली में मंगल मारकेश हैं तो शुक्र अष्टमेष व लग्नेश हैं। लग्न पत्रिका में भाग्य में मंगल व सूर्य इनके लिये पैतृक विरासत को आगे बढ़ाने के संकेत कर रहे हैं। कांग्रेस पार्टी के अध्यक्ष पद पर राहुल गांधी की ताजपोशी का कारण भी ग्रहों का यही योग हो सकता है। इनकी राशि पर वर्तमान में शनि की साढ़ेसाती का दूसरा चरण चल रहा है जो इनकी मुश्किलों के बढ़ने की ओर ईशारा करता है। जन्म कुंडली के अनुसार शनि नीच राशि में विराजमान हैं। नीच शनि के प्रभाव से ही कहीं न कहीं इन्हें राजनैतिक शख्सियत के तौर पर वह महत्व नहीं मिल पा रहा जो कि इन्हें मिलना चाहिये था।

9 दिसंबर प्रथम चरण के मतदान के दिन ग्रह स्थिति

9 दिसंबर को राहुल गांधी की राशि के अनुसार इनका चंद्रमा नवम रहेगा तो कांग्रेस पार्टी की राशि से चंद्रमा 12वें स्थान पर होंगे। भाग्य स्थान में चंद्रमा जहां राहुल के लिये शुभ संकेत कर रहा है तो वहीं पार्टी के लिये 12वां चंद्रमा शुभ नहीं है। वहीं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी व भाजपा की राशि एक ही है वृश्चिक। पहले चरण के मतदान के दिन चंद्रमा इनकी राशि से दसवें स्थान पर रहेगा जिसे शुभ कहा जा सकता है। लेकिन ताराबल की स्थिति किसी भी पक्ष के लिये अच्छी नहीं जिससे दोनों के बीच मुकाबला टक्कर का रहने के आसार हैं।

14 दिसबंर दूसरे चरण के मतदान के दिन ग्रह स्थिति

दूसरे चरण के मतदान के दिन चंद्रमा राहुल गांधी की राशि से 11वां है जो कि उनके लाभ का स्थान है साथ ही राशि स्वामी बृहस्पति भी चंद्रमा के साथ हैं। वहीं प्रधानमंत्री मोदी की राशि से चंद्रमा 12वां रहेगा जो कि इनके लिये शुभ नहीं है। हालांकि मोदी के लिये राशि स्वामी मंगल चंद्रमा के साथ रहेंगें कुल मिलाकर दूसरे चरण के मतदान में राहुल गांधी व उनकी पार्टी कांग्रेस का पलड़ा भारी रहने के आसार हैं।

18 दिसंबर मतगणना के दिन ग्रह स्थिति

18 दिसंबर को चंद्रमा के अस्त रहने से चंद्रमा का कोई खास प्रभाव नहीं पड़ेगा। कन्या राशि जो कि कांग्रेस की राशि है से चंद्रमा चतुर्थ स्थान पर रहेंगें जो कि मध्यम रहने के आसार हैं लेकिन राहुल गांधी की राशि जो कि धनु है में ही चंद्रमा इस दिन रहेंगें जो कि इनके लिये शुभ कहे जा सकते हैं। वहीं भाजपा व नरेंद्र मोदी की राशि वृश्चिक से चंद्रमा दूसरे स्थान पर रहेंगें जिसे लाभकारी माना जा सकता है।

कुल मिलाकर भाजपा व कांग्रेस, नरेंद्र मोदी व राहुल गाधी की कुंडलियों का आकलन व मतदान व मतदान के दिन चंद्रमा की स्थिति से गुजरात विधानसभा चुनाव 2017 बहुत ही कांटे की टक्कर का रहने वाला है। ज्योतिषाचार्यों का मानना है कि इस चुनाव में निर्दलीय उम्मीद्वारों की भूमिका अहम हो सकती है। भाजपा को सत्ता बनाने के लिये जोड़ तोड़ भी करनी पड़ सकती है। राहुल गांधी के ग्रहों की स्थिति मजबूत होने से कांग्रेस को इस समय भाग्य का साथ मिल सकता है।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *



Most Popular

To Top