धर्म-ज्योतिष

”***** नक्षत्रवाणी ****”:

आप सभी धर्मप्रेमी एवं प्रबुद्ध भक्तजनों को आचार्य मदन तुलसीराम जी कौशिक मुंबई (सिरसा-हरियाणा वाले) की ओर से सादर-सप्रेम मंगल प्रभात 🌻🌷good morning 🌷💐
विषेष सूचना:
मित्रों….! सोये हुए भाग्य को जगाने हेतु, जीवन के किसी भी क्षेत्र में सफलता पाने या फिर घर में सुख-शांति की प्राप्ति के लिए, जीवन के दूसरे छौटे-2 अटकते कामों में सफलता प्राप्ति हेतु बहुत ही कम दक्षिणा/न्यौछावर राशि में सर्वसिद्ध “पॉकेट सर्वकार्य सिद्धि यंत्र’ प्राप्ति करने के लिए (या फिर ये सिद्ध पॉकेट यंत्र भी हमसे ना लेने पाने की आर्थिक स्थिति के चलते) इन सामान्य बाधाओं के निवारण के लियेे लालकिताब के अनुभूत सहज -सरल उपाय/टोटके निःशुल्क जानने और इसके अलावा हमसे पूर्णतः वैज्ञानिकतापूर्ण, सटीक व अनुभव आधारित ज्योतिष-वास्तु मार्गदर्शन एवं किसी भी प्रकार की वैदिक पूजा-अनुष्ठान संबंधी कार्यों के आयोजन के लिए भी आप हमें याद कर सकते हैं और हमसे संपर्क करने हेतु हमारे भ्रमणध्वनि/मोबाइल क्रमांक/नंबर्ज हैं:9987815015 (मुंबई)/9991610514(सिरसा)
आइये अब चलें आज आपके प्रिय पोस्ट ‘ नक्षत्रवाणी’ के अंतर्गत ‘आज का दृकपंचांग और अति विशिष्ट आज के दिन के चन्द्र राशिफल’ एवं ‘आरोग्य मंत्र’ की ज्ञानयात्रा पर…!
𴀽𴀊🕉श्री हरिहरौविजयतेतराम्🕉
🇬🇧 *आंग्ल मतानुसार* :-
आज दिनांक 2 दिसम्बर, सन 2017, शनिवार
प्रस्तुत है ««« *आज का दृकपंचांग:«««
(यहां दिए गए सभी समय समाप्ति काल हैं।
कलियुगाब्द………….5119
संवत्सर (उत्तर)———–साधारण
विक्रम संवत—————–2074
शाका संवत——————1939
माह…………………….. मार्गशीर्ष/अगहन
पक्ष ……………………शुक्ल
तिथि———–चतुर्दशी24:57:38 तक
नक्षत्र————-भरणी12:07:02
योग—————परिघ12:52:13
करण————–गरज14:41:47
करण———–वाणिज24:57:38
चन्द्र राशि———–मेष17:27:26
चन्द्र राशि———————-वृषभ
सूर्य राशि——————– वृश्चिक
रितु——————————हेमंत
आयन——————-दक्षिणायण
संवत्सर———————हेम्लम्बी
संवत्सर (उत्तर)———–साधारण
सूर्योदय—————–06:54:25
सूर्यास्त——————17:22:48
दिन काल—————10:28:23
रात्री काल————–13:32:21
चंद्रोदय—————–16:33:34
चंद्रास्त——————30:09:01

लग्न–वृश्चिक 15°57′ , 225°57
‘सूर्य नक्षत्र——————अनुराधा
चन्द्र नक्षत्र——————–भरणी
नक्षत्र पाया ——————–स्वर्ण

*🚩💮🚩 पद, चरण 🚩💮🚩*
लो—-भरणी 12:07:02
अ—-कृत्तिका 17:27:26
ई—-कृत्तिका 22:46:26
उ—-कृत्तिका 28:04:13

*💮🚩💮 ग्रह गोचर 💮🚩💮*
ग्रह =राशी , अंश ,नक्षत्र, पद
=======================
सूर्य=वृश्चिक 15° 54 ‘अनुराधा, 4 ने
चन्द्र=मेष 22° 59 ‘ भरणी ‘ 3 ले
बुध=धनु, 05 ° 48 ‘ मूल ‘ 2 यो
शुक्र=तुला ’05 ° 30’अनुराधा’ 1 ना
मंगल=कन्या 00 ° 48 ‘चित्रा ‘3 रा
गुरु=तुला 17 ° 06′ स्वाति , 4 ता
शनि=धनु 03 ° 41’ मूल ‘2 यो
राहू=कर्क 24 ° 31 ‘आश्लेषा , 3 डे
केतु=मकर 24 ° 31 ‘धनिष्ठा, 1 गा

*🚩💮🚩शुभा$शुभ मुहूर्त🚩💮🚩*
राहू काल 09:32 – 10:50अशुभ
यम घंटा 13:27 – 14:46अशुभ
गुली काल 06:54 – 08:13अशुभ
अभिजित 11:48 -12:30शुभ
दूर मुहूर्त 08:18 – 09:00अशुभ

💮चोघडिया, दिन
काल 06:54 – 08:13अशुभ
शुभ 08:13 – 09:32शुभ
रोग 09:32 – 10:50अशुभ
उद्वेग 10:50 – 12:09अशुभ
चाल 12:09 – 13:27शुभ
लाभ 13:27 – 14:46शुभ
अमृत 14:46 – 16:04शुभ
काल 16:04 – 17:23अशुभ

🚩चोघडिया, रात
लाभ 17:23 – 19:04शुभ
उद्वेग 19:04 – 20:46अशुभ
शुभ 20:46 – 22:27शुभ
अमृत 22:27 – 24:09*शुभ
चाल 24:09* – 25:51*शुभ
रोग 25:51* – 27:32*अशुभ
काल 27:32* – 29:14*अशुभ
लाभ 29:14* – 30:55*शुभ

💮होरा, दिन
शनि 06:54 – 07:47
बृहस्पति 07:47 – 08:39
मंगल 08:39 – 09:32
सूर्य 09:32 – 10:24
शुक्र 10:24 – 11:16
बुध 11:16 – 12:09
चन्द्र 12:09 – 13:01
शनि 13:01 – 13:53
बृहस्पति 13:53 – 14:46
मंगल 14:46 – 15:38
सूर्य 15:38 – 16:30
शुक्र 16:30 – 17:23

🚩होरा, रात
बुध 17:23 – 18:31
चन्द्र 18:31 – 19:38
शनि 19:38 – 20:46
बृहस्पति 20:46 – 21:54
मंगल 21:54 – 23:01
सूर्य 23:01 – 24:09
शुक्र 24:09* – 25:17
बुध 25:17* – 26:24
चन्द्र 26:24* – 27:32
शनि 27:32* – 28:40
बृहस्पति 28:40* – 29:47
मंगल 29:47* – 30:55

*💮दिशा शूल ज्ञान——-पूर्व*
परिहार-: आवश्यकतानुसार यदि यात्रा करनी हो तो लौंग अथवा कालीमिर्च खाके यात्रा कर सकते है l
इस मंत्र का उच्चारण करें-:
शीघ्र गौतम गच्छत्वं ग्रामेषु नगरेषु च l
भोजनं वसनं यानं मार्गं मे परिकल्पय: ll

*🚩अग्नि वास ज्ञान -:*
14 + 7 + 1= 22 ÷ 4 = 2शेष
आकाश पर अग्नि वास हवन के लिए अशुभ है l

*💮 शिव वास एवं फल -:*
14 + 14 + 5 = 33 ÷ 7 = 5 शेष
ज्ञानवेलायां = कष्ट कारक

*🚩भद्रावास एवं फल-:*
रात्री 24:27 से प्रारम्भ
स्वर्ग लोक = शुभ कारक

*💮🚩💮शुभ विचार💮🚩💮*
अनृतं साहसं माया मूर्खत्वमतिलोभिता ।
अशौचत्वं निर्दयत्वं स्त्रीणांदोषाःस्वभावजाः ।।
।।चा o नी o।।
झूठ बोलना, कठोरता, छल करना, बेवकूफी करना, लालच, अपवित्रता और निर्दयता ये औरतो के कुछ नैसर्गिक दुर्गुण है।

*🚩💮🚩सुभाषितानि🚩💮🚩*
गीता -: दैवासुरसम्पद्विभाग योग अo-16

प्रवृत्तिं च निवृत्तिं च जना न विदुरासुराः।,
न शौचं नापि चाचारो न सत्यं तेषु विद्यते॥
आसुर स्वभाव वाले मनुष्य प्रवृत्ति और निवृत्ति- इन दोनों को ही नहीं जानते।, इसलिए उनमें न तो बाहर-भीतर की शुद्धि है, न श्रेष्ठ आचरण है और न सत्य भाषण ही है॥,7॥
*आरोग्य मंत्र*
*यादशक्ति बढ़ानेे हेतु : प्रतिदिन १५ से २० मि.ली. तुलसी रस व एक चम्मच च्यवनप्राश का थोडा-सा घोल बना के सारस्वत्य मंत्र अथवा गुरुमंत्र जपकर पियें | ४० दिन में चमत्कारिक फायदा होगा |*
➡ *वीर्यवर्धक योग : ४ – ५ खजूर रात को पानी में भिगो के रखें | सुबह १ चम्मच मक्खन, १ इलायची व थोडा-सा जायफल पानी में घिसकर उसमें मिला के खाली पेट लें | यह वीर्यवर्धक प्रयोग है |*
🙏🏻 साभार: *- ऋषिप्रसाद – जनवरी २०१४ से*
🌞 *~ हिन्दू पंचांग ~* 🌞

*💮🚩दैनिक चंद्र राशिफल🚩💮*

देशे ग्रामे गृहे युद्धे सेवायां व्यवहारके।
नामराशेः प्रधानत्वं जन्मराशिं न चिन्तयेत्।।
विवाहे सर्वमाङ्गल्ये यात्रायां ग्रहगोचरे।
जन्मराशेः प्रधानत्वं नामराशिं न चिन्तयेत्।।

🐑मेष
व्यावसायिक यात्रा सफल रहेगी। अप्रत्याशित लाभ हो सकता है। रोजगार मिलेगा। लेन-देन में सावधानी रखें। जीवनसाथी का ध्यान रखें।

🐂वृष
घर-परिवार की चिंता रहेगी। बड़े खर्च सामने आएंगे। कीमती वस्तुएं संभालकर रखें। विवाद से क्लेश संभव है।

👫मिथुन
लेनदारी वसूल होगी, प्रयास करें। यात्रा, निवेश व नौकरी मनोनुकूल रहेंगे। शत्रु परास्त होंगे। ऐश्वर्य पर खर्च होगा।

🦀कर्क
वस्तुएं संभालकर रखें। नई योजना बनेगी। कार्यप्रणाली में सुधार होगा। रुके कार्य पूर्ण होंगे। अपने पराक्रम से धन एवं यश प्राप्त करेंगे।

🐅सिंह
धर्म-कर्म में रुचि रहेगी। कोर्ट व कचहरी में अनुकूलता रहेगी। धनार्जन होगा। प्रसन्नता रहेगी। दांपत्य जीवन के विवादों का समाधान होगा।

🙍🏻कन्या
चोट, चोरी व विवाद से हानि संभव है। जोखिम व जमानत के कार्य टालें। दूसरों के झगड़ों में न पड़ें। कार्यक्षेत्र में लाभदायी अवसर मिलेंगे।

⚖तुला
जीवनसाथी से सहयोग प्राप्त होगा। राजकीय सहयोग मिलेगा। स्वास्थ्य का ध्यान रखें। धन प्राप्ति सुगम होगी। व्यापार-व्यवसाय लाभदायी रहेगा।

🦂वृश्चिक
यात्रा सफल रहेगी। नेत्र पीड़ा हो सकती है। प्रेम-प्रसंग में जोखिम न लें। शत्रु शांत रहेंगे। उन्नति होगी। कार्यक्षेत्र में लाभदायी अवसर मिलेंगे।

🏹धनु
विद्यार्थी वर्ग सफलता हासिल करेगा। स्वादिष्ट भोजन का आनंद मिलेगा। विवाद न करें। शारीरिक कष्ट संभव है। घर में शुभ कार्य का आयोजन होगा।

🐊मकर
दु:खद समाचार मिल सकता है। चोट व रोग से हानि संभव है। विवाद में न पड़ें। दौड़धूप रहेगी। कार्यस्थल पर सुधार होगा। मान-सम्मान मिलेगा।

🍯कुंभ
प्रयास सफल रहेंगे। आर्थिक उन्नति होगी। सम्मान मिलेगा। शत्रु परास्त होंगे। यात्रा से लाभ होगा। कोर्ट-कचहरी में अनुकूलता रहेगी।

🐠मीन
शुभ समाचार मिलेंगे। आत्मसम्मान बना रहेगा। पुराने संगी-साथी मिलेंगे। प्रसन्नता रहेगी। लाभ होगा। पूजा-पाठ में मन लगेगा।

प्रिय मित्रों आपके लिए विशेष ध्यान देने योग्य….!!!
☯ मित्रों क्या आप भी इनमें से किसी भी समस्या से ग्रसित हैं…?
1) खूब मेहनत के बाद भी या व्यापार-व्यवसाय में पर्याप्त इन्वेस्टमेंट करने के बाद भी आप अकारण आर्थिक दृष्टी से निरंतर पिछड़ते ही जा रहे हैं….?
2) एक ही नौकरी में लम्बे समय तक कार्य नहीं कर पाते हैं या वहां दिल से काम करते हुए भी आपको कोई पूछता ही नहीं है…? आपकी प्रमोशन ड्यू है कब से लेकिन आप बस दूसरों को आगे बढ़ते देख कर अपने नसीब को कोस रहे हैं…? आपके प्रतिद्वंदी अलग से परेशान करते रहते हैं…?
3) आपस में निरंतर अकारण क्लेश होता रहता है..?
4) शेयर मार्किट से कमाना चाहते हैं पर हर बार नुकसान उठा बैठते हैं…?
5) बिमारी आपको छोड़ ही रही है…? घर का हरएक व्यक्ति किसी न किसी बीमारी से त्रस्त है…? आमदनी का एक बड़ा हिस्सा हमेशां इसी पर खर्च हो जाता है…?
6) अकारण ही विवाह योग्य बच्चों के विवाह में दिक्कतें आ रही हैं…?
7) शत्रुओं ने आपकी रात की नींद और दिन का चैन हराम किया हुआ है…?
8) पैतृक सम्पति विवाद सुलझ ही नहीं रहा है…? और संपति केवास्तविक हकदार आप हैं तथा आप इसे अपने हक में सुलझना चाहते हैं…?
9) विदेश यात्रा या विदेश में सेटलमेंट को लेकर बहुत समय से परेशान हैं…?
10) आपको डरावने सपने आते हैं..? सपने में सांप या भूत-प्रेत या ऐसे ही नींद उड़ाने वाले दृश्य दीखते हैं…?
11) फिल्म या मीडिया में बहुत समय से संघर्ष के बाद भी सफलता​ नहीं मिल रही…?
12) राजनीति को ही आप अपना कैरियर बनाना चाहते हैं पर आपको कुछ भी समझ नहीं आ रहा…?

यदि हाँ…??? तो यह सब अकारण ही नहीं है…! इसके पीछे बहुत ठोस कारण हैं जो कि आपकी जन्म कुंडली या आपके घर-आफिस का वास्तु देखकर या आपकी जन्मकुंडली भी ना होने की स्थिति में हमारे दीर्घ अध्ययन और प्रैक्टिकल ज्योतिषीय अनुभव के आधार पर अन्य विधियों से जाने जा सकते हैं…? तो अब आप और देरी ना करें और तुरंत हमें फोन करें…! आपकी उन्नति निश्चित है और आपकी मंजिल अब दूर नहीं…!

🇮🇳🇮🇳 *भारत माता की जय* 🚩🚩
धर्मप्रेमी सज्जनों व देवियों आपको यह बताते हुए मुझे अति हर्ष हो रहा है कि एस्ट्रो-वर्ल्ड भायंदर-मुंबई व सिरसा-हरियाणा की ओर से आपके लिए ‘शिवरात्रि महापर्व’ के शुभावसर पर ‘होली’ तक के लिए ”अपनी जन्म राशि या जन्मलग्न ज्ञात करें…?” नाम की योजना को फिर शुरू किया गया था और इस योजना को गत वर्ष की तरह ही आप ज्योतिष प्रेमियों की भारी डिमांड के आधार पर आगे भी ईश्वर की इच्छा तक ज़ारी रखा जा रहा है। इस योजना का पूरा-पूरा लाभ लें..! इसमें आप अपनी जन्मराशि कौन सी है या जन्मलग्न कौन सा है, ये नि:शुल्क ज्ञात कर सकते हैं।
दोस्तों….! इतना ध्यान रखे…! कि हमारा एक सटीक मार्गदर्शन आपके जीवन को पूरी तरह बदल सकता है, जिसे कि ‘लाईफ ट्रांसफॉर्मेशन’ कहते हैं। आपको इस (ज्योतिष) विज्ञान या हमारी इस बात पर पूरा भरोसा ना हो तो आप ईश्वरकृपा और हमारे पूर्णत: वैज्ञानिकता​पूर्ण मार्गदर्शन के माध्यम से अब तक जो श्रद्धालु लोग लाभान्वित हुए हैं, आप उनसे बात कर सकते हैं या मिल भी सकते हैं..!
इसके अलावा जो लोग हमारे पास उपलब्ध विविध प्रकार के मार्गदर्शन फोर्मेट्स जैसे जीवन दिशा रिपोर्ट, जीवन परिवर्तन रिपोर्ट, सम्पूर्ण साईकिक व कार्मिक रीडिंग सैशन, संपूर्ण वास्तु मार्गदर्शन या अन्य में से कोई लेना चाहते तो हैं परंतु इनके तय मार्गदर्शन शुल्क/ कंस्लटेशन फीस (दक्षिणा) देने में किसी कारण से सक्षम नहीं हैं, वे हमसे क्लीयर बात करके उस संबंधित सेवा का अपना लिए Consultation Charges अभी कम करवा लें और बाद में अपने हिसाब से समस्या हल होने पर, लाभ मिलनें पर ईमानदारीपूर्वक शेष शुल्क हमें दे दें…!
तो आइये या फिर आप जहाँ कहीं भी हैं, वहीं से फोन पर अपनी उँगलियाँ चलाइये.! आपकी मंजिल आप से बस अब और दूर नहीं.!!!
मित्रों..! पहली अॉफर के अंतर्गत यदि आप में से कोई भी ज्योतिष प्रेमी अपनी ‘जन्म लग्न राशि’ या जन्म की सटीक ‘चन्द्र राशि’ या फिर अपनी ‘सूर्य राशि’ क्या है यह जानना चाहता है तो इसके लिए हमें दिन में 1-3 बजे के बीच फोन करें या अपनी Birth डिटेल्स हमें Wats App करें और हमारे संस्थान की ओर से पूर्णतः निःशुल्क अपना जन्मलग्न या अपनी जन्म राशि जानें!

प्रस्तुति: आचार्य मदन टी.कौशिक मुंबई (सिरसा-हरियाणा वाले, मूल निकास: गौड़ बंगाल एवं तत्पश्चात ढाणी भालोट-झुंझनूँ-राज.)
(चयनित/Appointed/) ज्योतिष एवं वास्तु शोध वैज्ञानिक एवं पूर्व विभागाध्यक्ष: TARF, Dadar-Mumbai
साभार: वैकुण्ठपुरम वट्सएप्प ग्रुप
(धुरंधर वैदिक विद्वानों का अद्वितीय वैश्विकमंच)
कार्यकारी अध्यक्ष: एस्ट्रो-वर्ल्ड मुंबई व सिरसा
(सभी दैहिक दैविक भौतिक समस्याओं का एक ही जगह सटीक निदान व स्थायी समाधान)
अध्यक्ष: सातफेरे डॉट कॉम मुंबई व सिरसा (आपके अपनों के दिव्य एवं सुसंस्कारी वैवाहिक जीवन की झटपट शुरूआत हेतु अनूठा संस्थान)
नोट: हमारी या हमारे संस्थान ‘एस्ट्रो-वर्ल्ड’ तथा आपके अपनों के वैवाहिक जीवन सम्बन्धी सभी समस्याओं का एकमात्र हल एवं विश्व के इस सबसे अनूठे मंच ‘सातफेरे डॉट कॉम’ मुंबई या सिरसा की किसी भी प्रकार की गरिमापूर्ण सेवा जैसे वैज्ञानिकतापूर्ण ज्योतिष-वास्तु मार्गदर्शन, सभी प्रकार के मुहूर्त शोधन, नामकरण संस्कार, विवाह संस्कार या अन्य कोई भी वैदिक पूजा-अनुष्ठान आयोजित करवाने, रत्न अभिमन्त्रण, सभी राशिरत्न-उपरत्न, मणि-माणिक्य, सियारसिंगी, हत्थाजोड़ी, नागकेसर, विविध प्रकार के वास्तु पिरामिडज एवं अन्य कई प्रकार की सौभाग्यवर्धक वस्तुओं की प्राप्ति हेतु हमारे…
सम्पर्क सूत्र: 9987815015 / 9991610514
ईमेल आई डी: madankaushik1971@gmail.com
Website: www.vedicasto.in
🌺 आपका सप्ताहांत परम मंगलमय हो मित्रों..!
*भारत माता की जय* 🚩🚩
।। 🐚 *शुभम भवतु* 🐚 ।।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *



Most Popular

To Top