विदेश

कट्टरपंथियों के दवाब में पाक के कानून मंत्री का इस्तीफा, आंदोलन वापस

इस्लामाबाद। इस्लामिक कट्टरपंथियों की ओर से लगातार कई दिनों से जारी विरोध प्रदर्शनों के दवाब में पाकिस्तान के कानून मंत्री जाहिद हामिद ने रविवार देर रात अपने पद से इस्तीफा दे दिया है। कानून मंत्री के इस्तीफे के बाद कट्टरपंथियों ने अपना आंदोलन वापस ले लिया है। ज्ञातव्य है कि कट्टरपंथियों ने कानून मंत्री जाहिद हामिद पर ईशनिंदा का आरोप लगाया है। कट्टरपंथी इसके विरोध में 11 दिन दिनों से विरोध प्रदर्शन कर रहे थे। तहरीक-ए-खत्म-ए-नबूवत, तहरीक-ए-लबैक या रसूल अल्लाह और सुन्नी तहरीक पाकिस्तान के करीब 2,000 कार्यकर्ताओं ने दो सप्ताह से अधिक समय से इस्लामाबाद एक्सप्रेसवे और मुरी की घेराबंदी कर रखी थी। ज्ञातव्य है कि यह सडक इस्लामाबाद को इसके एकमात्र हवाईअड्डे और रावलपिंडी को जोडती है।

ज्ञातव्य है कि पाकिस्तान सरकार और प्रदर्शनकारियों में बातचीत हुई थी। इसमें इस बात पर सहमति बनी थी कि अगर जाहिद इस्तीफा देते हैं तो आंदोलन वापस ले लिया जाएगा। इस्लामिक समूह तहरीक-ए-लबैक के प्रवक्ता एजाज अशरफी ने कहा था कि हमारी मुख्य मांग को स्वीकार कर लिया गया है। साथ ही उसने कहा था कि कानून मंत्री के इस्तीफे के बाद हम अपने आंदोलन को वापस ले लेंगे।
क्या है मामला:

ज्ञातव्य है कि पाकिस्तान सरकार के कानून मंत्री जाहिद ने पाकिस्तान में संवैधानिक पदों पर बैठने वाले लोगों की शपथ में बदलाव को लेकर प्रस्ताव दिया था। जाहिद के प्रस्ताव के विरोध में कट्टरपंथी सडकों पर उतर आए थे। राजधानी इस्लामाबाद में हिंसक प्रदर्शन करते हुए इन लोगों का कहना था कि शपथ में बदलाव किया जाना ईशनिंदा के जैसा है।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *



Most Popular

To Top