जयपुर

राष्ट्रीय पर्यटन पुरस्कार हम सबके लिए गौरव का विषय – मुख्यमंत्री

जयपुर। मुख्यमंत्री वसुन्धरा राजे ने राजस्थान को पर्यटन के क्षेत्र में मिले राष्ट्रीय पुरस्कारों पर प्रसन्नता व्यक्त करते हुए कहा कि यह पूरे प्रदेश के लिए गौरव का विषय है और हम सभी के प्रयासों से राजस्थान देश में एक प्रमुख टूरिस्ट फ्रेंडली स्टेट के रूप में उभर रहा है। उन्होंने कहा कि राजस्थान को विश्व के पर्यटन मानचित्र पर स्थापित करने के लिए चलाए जा रहे ग्लोबल मीडिया कैम्पेन की टैगलाइन ‘जाने क्या दिख जाए‘ को मिली अपार लोकप्रियता का परिणाम है।

सीएम राजे को बुधवार को मुख्यमंत्री कार्यालय में पर्यटन मंत्री कृष्णेन्द्र कौर दीपा और अतिरिक्त मुख्य सचिव पर्यटन एनसी गोयल ने ये पुरस्कार सौंपे। सीएम राजे ने इसके लिए पर्यटन मंत्री कृष्णेन्द्र कौर दीपा, अतिरिक्त मुख्य सचिव एनसी गोयल और उनकी पूरी टीम को बधाई दी।

उल्लेखनीय है कि राष्ट्रपति रामनाथ कोविन्द और केन्द्रीय पर्यटन राज्यमंत्री केजे अलफोन्स ने पर्यटन के क्षेत्र में उत्कृष्ट कार्य करने के लिए पिछले दिनों आयोजित समारोह में राजस्थान पर्यटन विभाग को दो राष्ट्रीय पर्यटन पुरस्कारों से सम्मानित किया था। साथ ही तीन अन्य श्रेणियों में भी राजस्थान को पुरस्कार प्राप्त हुए थे।

अन्तर्राष्ट्रीय पर्यटन दिवस पर दिल्ली के विज्ञान भवन में आयोजित इस समारोह में पर्यटन विभाग को पर्यटन फिल्म्स श्रेणी में पर्यटन फिल्म्स प्रमोशन के लिए वर्ष 2015-16 के राष्ट्रीय पुरस्कार से सम्मानित किया गया था। साथ ही बेस्ट स्टेट श्रेणी में पर्यटन के सर्वांगीण विकास के लिए देशभर में दूसरे सर्वश्रेष्ठ राज्य का पुरस्कार प्रदान किया गया था।

अन्य तीन श्रेणियों में फाइव स्टार डीलक्स कैटेगरी में उदयपुर की द ओबेराॅय उदयविलास, बेस्ट हैरिटेज होटल ग्रांड कैटेगरी में उदयपुर के फतह प्रकाश पैलेस तथा बेस्ट हैरिटेज होटल बेसिक कैटेगरी में सामोद हवेली गंगापोल जयपुर को भी पुरस्कृत किया गया था।
इस अवसर पर पर्यटन विभाग के विशिष्ट शासन सचिव प्रदीप बोरड़ सहित विभाग के अन्य वरिष्ठ अधिकारी भी उपस्थित थे।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *



Most Popular

To Top