रोचक खबरें

परिवार के लोग ही क्यों मारते हैं बुजुर्गो को!

Why do people in the family kill the elderly!

आप जानते है कई देश ऐसे है जहां पर इच्छा मृत्यु की इजाजत है। लेकिन भारत में एक ऐसी जगह है जहां पर बूढ़े या परिवार के बुजुर्ग व्यक्ति को मार दिया जाता है। यह कृत्य बाहर का कोई व्यक्ति नहीं करता है। बल्कि परिवार के लोग ही ऐसा करते है। आपको यह जानकार हैरानी हो रही होगी। लेकिन यह एकदम सही है। तमिलनाडु में एक जगह ऐसी है जहां पर परम्परा के नाम पर घर के बुजुर्ग सदस्य की हत्या कर दी जाती है। यह सब अंधविश्वास और परम्परा के नाम पर होता है। इस प्रथा को यहां के लोग ठलाईकूठन के नाम से जानते है। जब बुजुर्ग को मारा जाता है तो परिवार के लोगों के अलावा गांव के अन्य लोग भी मौजूद होते हैं। यह परम्परा आज से नहीं सर्दियों से निभाई जा रही हैं। यह परंपरा तमिलनाडु के कई दक्षिणी जिलों में आज भी जारी है।

घर में रह रहे बुजुर्ग की हत्या का समय निश्चित नहीं हैं। लेकिन उन बुजुर्गो की हत्या पहले की जाती है जो या तो परिवार पर बोझ हो बन गए। या जिनको कोई ऐसी बीमारी हो जिसका इलाज नहीं हो सकता है। वहां पर यह समझा जाता है कि बुजुर्गो के लिए एक सम्मानजनक विदाई है। यह परंपरा निभाते वक्त लोग काफी सावधानी बरतते है ताकि पुलिस को इसकी भनक ना लगे क्योंकि ये कानूनन अपराध है और तमिलनाडु में इस परंपरा पर प्रतिबंध लगाया जा चुका है। मौत के घाट उतारने के अन्य तरीके भी होते हैं। जैसे बुजुर्गों को ठंडे पानी से नहलाया जाता है ताकि उन्हें हार्ट अटैक आ जाए या कभी मिट्टी मिला पानी पिलाया जाता है, जिससे पेट खराब हो जाता है और उसकी मौत हो जाती है।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *



Most Popular

To Top