चूरू

साहिल के बिना शहरी के रोजे जारी

सादुलपुर,अविनाश के.आचार्य। राजगढ़ शहर के वार्ड संख्या 18 मौहल्ला नरडिय़ान के 10 वर्षीय मोहम्मद साहिल ने बिना शहरी के रोजे रखने शुरू कर दिए है। साहिल के पिता उमराव खां खींची ने छोटीकाशी डॉट कॉम को बताया कि इस भंयकर गर्मी के चलते रमजान के पवित्र महिने में साहिल के बिना शहरी के रोजे जारी है। उन्होने बताया कि साहिल ने यह रोजे अपने बड़ो की प्रेरणा से रखे है। माना जाता है कि रमजान के पाक महीने में जन्नत के दरवाजे खुल जाते हैं। इसलिए इस माह में किए गए अच्छे कर्मों का फल कई गुना ज्यादा बढ़ जाता है और ऊपर वाला अपने बंदों के अच्छे कामों पर नजर करता है ओर उनसे खुश होता है। रमजान के पाक महीने में अल्लाह से अपने सभी बुरे कर्मों के लिए माफी भी मांगी जाती है। महीने भर तौबा के साथ इबादतें की जाती हैं। माना जाता है कि ऐसा करने से इंसान के सारे गुनाह धूल जाते हैं। राजगढ़ शहर के मोहम्म्द साहिल की इस कामयाबी के लिए परिवार के सदस्यो ने खुशी व्यक्त की है।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *



Most Popular

To Top