विदेश

तमाम चेतावनियों के बावजूद बाज नहीं आ रहा उत्तर कोरिया, फिर किया मिसाइल परीक्षण

North Korea, then did missile test despite all the warnings

सोल: उत्तर कोरिया ने आज फिर से एक बैलेस्टिक मिसाइल का परीक्षण किया। हाल के महीनों में उसने कई परीक्षण किए हैं जिससे कोरियाई प्रायद्वीप में तनाव काफी बढ़ा हुआ है। उत्तर कोरिया ने 3 हफ्तों में तीसरा मिसाइल परीक्षण किया।

6 मिनट तक हवा में रहने के बाद जापान सागर में गिरी मिसाइल- अमरीकी प्रशांत कमान ने कहा कि प्योंगयांग की आेर से कम दूरी की मिसाइल का परीक्षण किया गया है। यह मिसाइल 6 मिनट तक हवा में रहने के बाद जापान सागर में गिरी। उसने कहा कि इस परीक्षण को लेकर विस्तृत आकलन किया जा रहा है।यह ताजा परीक्षण उस वक्त किया गया है जब अमरीका ने उत्तर कोरिया को लेकर सख्त रूख अपनाया है। राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने बीते शुक्रवार को कहा था कि उत्तर कोरिया की ‘बड़ी समस्या’ को ‘हल कर लिया जाएगा।’

जापान और अमरीका मिलकर करेंगे ‘ठोस कार्रवाई’-   ने जी-7 शिखर बैठक में जापानी प्रधानमंत्री शिंजो आबे के साथ मुलाकात के दौरान यह टिप्पणी की। आबे ने आज के परीक्षण की निंदा की और कहा कि अमरीका के साथ मिलकर ‘ठोस कार्रवाई’ की जाएगी। उन्होंने संवाददाताओं से कहा,‘‘हम उत्तर कोरिया की आेर से निरंतर की जा रही उकसावे की कार्रवाई को सहन नहीं करेंगे।’’ वाशिंगटन में अमरीका की राष्ट्रीय सुरक्षा परिषद के एक प्रवक्ता ने कहा कि ट्रंप को इस परीक्षण के बारे में जानकारी दी गई है।

संयुक्त राष्ट्र लगा सकता हैं कड़े प्रतिबंध – दक्षिण कोरिया के राष्ट्रपति मून जाए-इन ने इस परीक्षण के बाद की स्थिति का आकलन करने के लिए राष्ट्रीय सुरक्षा परिषद की बैठक बुलाई है।उत्तर कोरिया की आेर से मिसाइल परीक्षण किए जाने और छठे परमाणु परीक्षण की तैयारी को देखते हुए संयुक्त राष्ट्र द्वारा कड़े प्रतिबंध लगाए जा सकते हैं। यही नहीं, ट्रंप प्रशासन ने चेतावनी दी थी कि सैन्य दखल भी एक विकल्प है। दक्षिण कोरिया के ज्वाइंट चीफ्स ऑफ स्टॉफ ने कहा कि आज की मिसाइल की मारक क्षमता करीब 450 किलोमीटर है।जापान के मुख्य कैबिनेट सचिव योशिहिदे सुगा ने कहा कि लगता है कि यह मिसाइल जापान के विशेष आर्थिक क्षेत्र (सेज)वाले जलक्षेत्र में गिरी है।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *



Most Popular

To Top