विदेश

चीन पूर्वी और दक्षिण चीन सागर पर जी-7 के रवैये से नाखुश

China Eastern and-ji on the South China Sea-7 unhappy with the attitude of

बीजिंग। चीन ने जी-7 देशों के शिखर बैठक के दाैरान एक वक्तव्य में पूर्वी और दक्षिण चीन सागर का जिक्र किए जाने पर कड़ा असंतोष जताते हुए कहा है कि जी-7 देशों को इस तरह की गैर-जिम्मेदाराना टिप्पणी से बचना चाहिए। चीन के विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता लू कांग ने अाज एक वक्तव्य जारी कर बताया कि चीन सभी देशों के साथ मिलकर शांति और स्थिरता से इस मुद्दे को सुलझाना चाहता है।

उन्होंने बताया कि चीन यह उम्मीद करता है कि जी-7 और अन्य देश इस मुद्दे पर किसी भी तरह का पक्ष लेने से बचेंगे एवं इस विवाद के समाधान के लिए सभी देशाें के प्रयासों का सम्मान करेंगे। साथ ही इस मुद्दे पर किसी भी तरह का विवादास्पद बयान देने से बचेंगे। यहां कल जारी एक आधिकारिक विज्ञप्ति में जी-7 देशों के नेताआें ने पूर्वी और दक्षिण चीन सागर की स्थिति पर चिंता जताई थी। विज्ञप्ति में इस विवादास्पद क्षेत्र में असैन्यीकरण का भी आह्वान किया गया था।

उल्लेखनीय है कि जी-7 देशों के समूह में अमेरिका, फ्रांस, कनाडा, जर्मनी, ब्रिटेन, इटली और जापान शामिल हैं। इस वर्ष यह बैठक इटली के सिसली शहर में आयोजित की गयी।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *



Most Popular

To Top