व्यापार

मानसून की चाल पर निर्भर करेगा शेयर बाजार

Monsoon will depend on the movement of stock market

मुंबई। विदेशी निवेशकों की सक्रियता और कंपनियों के बेहतर परिणामों की उम्मीदाें से नये रिकार्ड बना रहे देश के शेयर बाजारों की अगले सप्ताह चालू मानसून की प्रगति और निवेशकों की खरीदारी पर निर्भर करेगी।

बाजार विश्लेषकों का मानना है कि सरकार आने वाले दिनों में अर्थव्यवस्था को और तेजी से आगे बढाने के लिये कदम उठा सकती है। उधर मानसून भी सही समय से पहले आने की उम्मीद बंधी है। इसके अलावा फेडरल रिजर्व की ब्याज दरों ब्याज को बढ़ाने की गति धीमी रहने से बाजार को हवा मिली है। मौसम विभाग का अनुमान है कि इस बार मानसून 29 मई तक केरल में दस्तक दे देगा। यह सामान्य की तुलना में दो-तीन दिन पहले होगा। देश में कृषि अर्थव्यवस्था के लिये मानसून का बहुत महत्व है। दो साल के सूखे के बाद गत वर्ष मानसून अच्छा रहा था जिसके परिणाम स्वरूप कृषि पैदावार अच्छी हुई थी।

बीते सप्ताह कई सार्वजनिक उपक्रमों और कई निजी कंपनियों के बेहतर परिणामों के साथ-साथ वायदा एवं विकल्प के सौंदों को पूरा करने के लिये हुई खरीदारी से शेयर बाजारों ने नयी छलांग लगायी और नये रिकार्ड पर बंद हुए। विदेशी और घरेलू संस्थानों की खरीद भी बाजार को नयी ऊचाई पर ले जाने में सहायक रही । चालू वित्त वर्ष में एक अप्रैल से 26 मई तक अवधि विदेशी संस्थानों ने 11 हजार 401 करोड रूपये की शुद्ध लिवाली की घरेलू संस्थान भी 13 हजार 806 करोड रूपये के लिवाल रहे ।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *



Most Popular

To Top