जयपुर

देश में मॉडल बनेगा द्रव्यवती रिवर प्रोजेक्ट हर हाल में अगस्त-2018 तक पूरा करें काम -मुख्यमंत्री

Work will be completed in the country by August -2018: Chief Minister

जयपुर। मुख्यमंत्री श्रीमती वसुन्धरा राजे ने कहा कि द्रव्यवती रिवर प्रोजेक्ट राज्य सरकार का एक लैंडमार्क प्रोजेक्ट है। गंदे नाले का रूप ले चुकी द्रव्यवती नदी को पुनर्जीवित करने के इस महत्वाकांक्षी प्रोजेक्ट को हर हाल में 15 अगस्त 2018 तक पूरा किया जाए।

श्रीमती राजे बुधवार को मुख्यमंत्री निवास पर इस प्रोजेक्ट की समीक्षा बैठक को संबोधित कर रही थीं। उन्होंने कहा कि यह परियोजना देश में एक मॉडल प्रोजेक्ट के रूप में सामने आएगी। टाटा प्रोजेक्ट्स के निर्देशन में विश्वस्तरीय विशेषज्ञों की सहयोग से इस परियोजना में गंदे पानी को साफ करने के लिए 170 एमएलडी के सीवरेज ट्रीटमेंट प्लांट, वॉक-वे, जॉगिंग पार्क, ईको पार्क, सिटिंग एरिया, चैक डेम आदि बनाए जाएंगे जिससे कि नदी का खोया हुआ वैभव लौटेगा।

सभी बाधाएं टाइम फ्रेम में दूर करें
मुख्यमंत्री ने कहा कि द्रव्यवती प्रोजेक्ट की राह में आने वाली बाधाओं को प्राथमिकता से दूर किया जाए। प्रोजेक्ट के दूसरे चरण के लिए आवश्यक एन्वायर्नमेंटल स्वीकृति के काम को शीघ्र पूरा करें। उन्होंने मुख्य सचिव को निर्देश दिए कि मिलिट्री एरिया के समीप से गुजर रहे द्रव्यवती नदी क्षेत्र में रिवरफ्रंट के काम को तेजी से पूरा करने के लिए सेना के अधिकारियों से वार्ता करें।

सिंगापुर के बॉटेनिकल गार्डन की तरह विकसित हाें उद्यान
श्रीमती राजे ने कहा कि इस प्रोजेक्ट के अंतर्गत विकसित होने वाले उद्यानों को सिंगापुर के बॉटेनिकल गार्डन जैसे विश्वप्रसिद्ध उद्यानों की तर्ज पर विकसित किया जाए। साथ ही स्थानीय पारिस्थितिकी का भी ध्यान रखते हुए स्थानीय जलवायु के अनुरूप पौधे लगाए जाएं। इसके लिए लैंडस्केपिंग के विश्वस्तरीय विशेषज्ञों की सलाह ली जाए।

बैठक में टाटा प्रोजेक्ट्स के एमडी श्री विनायक के. देशपांडे ने रिवर प्रोजेक्ट की अब तक की प्रगति की जानकारी देते हुए आश्वस्त किया कि मुख्यमंत्री की मंशा के अनुरूप द्रव्यवती नदी के सौंदर्यकरण और रिवरफ्रंट विकास के काम को निर्धारित समय सीमा में पूरा किया जाएगा। उन्होंने बताया कि विभिन्न चरणों में अर्थवर्क, स्टोन पिचिंग, सीवरेज ट्रीटमेंट प्लांट, कंक्रीट लाइनिंग, सीवर पाइप, स्टोरेज चैक डेम आदि के कार्य तेजी से पूरे किए जा रहे हैं।

इस अवसर पर नगरीय विकास मंत्री श्री श्रीचन्द कृपलानी, मुख्य सचिव श्री ओपी मीना, अति. मुख्य सचिव वन एवं पर्यावरण श्री एनसी गोयल, अति. मुख्य सचिव नगरीय विकास विभाग श्री मुकेश शर्मा, जयपुर विकास प्राधिकरण के आयुक्त श्री वैभव गालरिया सहित टाटा प्रोजेक्ट्स के अधिकारीगण भी उपस्थित थे।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *



Most Popular

To Top