चूरू

जीवन को सुखमय जीने का सन्देश देती है रामायण:-डॉ.राधिका

सादुलपुर,अविनाश के.आचार्य। राजगढ़ शहर में देव नगरी हरिद्वार से पधारी परम् विदुषि डॉ. राधिका दीदी द्वारा प्रमुख धार्मिक स्थल बाबा रामदेव मन्दिर में रामकथा का शुभारम्भ समारोह पूर्वक किया गया। आपको बता दे कि रामकथा से पूर्व विशाल कलश यात्रा निकाली गई जिसमें नारी शक्ति ने हर्षोल्लास से भाग लिया। पुजारी बाबुलाल स्वामी ने छोटीकाशी डॉट कॉम सादुलपुर को बताया कि कलश यात्रा में शहर की प्रसिद्ध आर.एस.मैमोरियल स्कूल के निदेशक व मुख्य यजमान महावीर सिंह शेखावत, सुरेन्द्र कुमार सैनी, विनोद डोकवेवाला, नरेश सैनी, ओमप्रकाश प्रजापत, महेश शर्मा सहित अनेक गणमान्य भक्तजनों ने भाग लिया। इस मौके बग्गी में विराजमान कथावाचक डॉ. राधिका दीदी का शहरवासियों ने जबरदस्त फूल वर्षा कर स्वागत सम्मान किया वहीं डीजे की धून पर नाचते और जय श्री राम के नारे लगाते भक्तजनों का उत्साह देखने लायक था। सांय 3.30 बजे कथा प्रारम्भ हुई जिसमें श्री तुलसीदास जी एवं श्री रामचरितमानस का परिचय भक्तजनों ने सुना। कथा में डॉ. राधिका दीदी ने कहा कि रामायण केवल ग्रंथ नही हैं यह मानव मात्र के कल्याण हेतु मनुष्य को मानुष की तरह जीने की कला सीखाती हैं तथा मर्यादा में रहकर संसारिक जीवन को सुन्दर ढग़ से सुखमय जीने का सन्देश देती हैं। नरेश सैनी ने बताया कि शुक्रवार 12 मई को शिव पार्वती विवाह, शनिवार 13 मई को श्रीराम जन्म उत्सव, सोमवार 15 मई को राम जानकी विवाह, गुरूवार 18 मई को श्रीराम राज्याभिषेक एवं शुक्रवार 19 मई को सुबह 8.15 बजे हवन का आयोजन किया जायेगा। कथा के दौरान यजमान महावीर सिंह शेखावत ने सभी धर्म प्रेमियों को उत्साहपूर्वक उपरोक्त सभी आयोजनों में भाग लेने का आह्वान किया।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *



Most Popular

To Top