बीकानेर

श्री प्रीति क्लब की ‘प्रीति स्मारिका’ विमोचित / माखन भोग उत्सव कुंज में दो दिवसीय समारोह सम्पन्न

Preety Smarika Book inaugrate By Guest Programme Organised By Shri Preety Club At Makhan Bhog Utsav Kunj in Bikaner

Preety Smarika Book inaugrate By Guest Programme Organised By Shri Preety Club At Makhan Bhog Utsav Kunj in Bikaner

Dr Gaurav Bissa Adressing Programme Organised By Shri Preety Club in Bikaner

Dr Gaurav Bissa Adressing Programme Organised By Shri Preety Club in Bikaner

संजय जोशी, बीकानेर। श्री प्रीति क्लब द्वारा रजत जयंती महोत्सव के तहत स्थानीय माखन भोग उत्सव कुंज में समारोह मनाया गया। पहले दिन शनिवार को ‘संस्कार एवं व्यक्तित्व निखार’ विषयक सेमीनार में बोलते हुए मुख्य वक्ता डा. गौरव बिस्सा ने कहा कि प्लान बनाना तो सभी जानते हैं पर उस पर अमल करने सबसे बड़ी बात है। जो अमल करता है वह निश्चित तौर पर उपलब्धि हासिल करता है। इस सत्र के मुख्य अतिथि डा. नृसिंह बिन्नाणी थे जबकि द्वितीय सत्र में मुख्य वक्ता टैक्स गुरु सीएनबीसी सुभाष लखोटिया थे। उन्होंने टैक्स प्लानिंग एण्ड मनी मेकिंग आईडिज इन रीयल स्टेट पर व्याख्यान दिया। उपस्थित जनसमुदाय में सीए व टैक्स एडवोकेट्स भी उपस्थित थे। अध्यक्षता शशिमोहन मूंधड़ा ने की। बतौर मुख्यातिथि जोधपुर हाईकोर्ट के पूर्व न्यायाधीश माणक मोहता थे। वहीं महोत्सव के दूसरे दिन रविवार को प्रथम सत्र में स्वास्थ्य परिचर्चा व नेचुरोपैथी पर व्याख्यानमाला में मुख्य वक्ता देवकृष्ण सारस्वत थे। जिन्होंने अपने उद्बोधन में बिना दवा के अपने दिनचर्या को सुधार कर व्यक्ति स्वस्थ रह सकता है। आयुर्वेद में कैंसर व स्टोन ऑपरेशन के अलावा सभी तरह का इलाज संभव है। मुख्य अतिथि डा. एम.एम.बागड़ी थे। विशिष्ट अतिथि आयुर्वेदाचार्य डॉ. प्रीति गुप्ता थी। द्वितीय सत्र में सांस्कृतिक कार्यक्रम का आयोजन भी किया गया। जिसमेें द्वारकाप्रसाद राठी ने अध्यक्षता की। मुख्य अतिथि बीकानेर जिला उद्योग संघ के अध्यक्ष डी.पी.पचीसिया थे जबकि विशिष्ट अतिथि ओमप्रकाश दम्माणी थे। सांस्कृतिक कार्यक्रमों में नृत्य नाटिकाओं द्वारा पानी बचाओ, अंधता निवारण, खून की महत्ता, मंदबुद्ध बच्चों व शिक्षा पर मंचित की गयी। आयोजन में ‘प्रीति स्मारिका’ का विमोचन अतिथियों द्वारा किया गया। क्लब की गतिविधि के बारे में सचिव अशोक कुमार बागड़ी द्वारा विवेचना की गयी। अध्यक्ष मगनलाल चाण्डक द्वारा धन्यवाद दिया गया। सभी कार्यक्रमों की एंकरिंग शानदार प्रभावी तरीके से याज्ञवलक्य दम्माणी द्वारा की गयी। अंत में संरक्षक पुरुषोत्तम बिहाणी द्वारा अतिथियों को स्मृति चिन्ह प्रदान किए गए। कार्यक्रमों में घनश्याम दास कल्याणी ‘जी.डी.सेल्स’ ने भी अपनी भूमिका निभायी।

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *



Most Popular

To Top