बीकानेर

15 हजार पोस्टकार्ड भेजने के बाद भी नजर नहीं आयी ‘संवेदनशीलता’ ! / अब सोनिया, चन्द्रभान व रेलमंत्री को भेजेंगे 15 हजार और पोस्टकार्ड / मातृभूमि फाउण्डेशन व जिउसं का संयुक्त रेलवे बाईपास के लिए अभियान जारी

D P Pachisia, Mukesh Agarwal & Manish Nahata in Press Conference in Bikaner.

D P Pachisia, Mukesh Agarwal & Manish Nahata in Press Conference in Bikaner.

बीकानेर, 31 दिसम्बर। वर्ष 2008 के विधानसभा चुनाव में प्रदेश कांगे्रस कमेटी द्वारा जारी किए गए घोषणा पत्र में ‘सशक्त एवं नया राजस्थान बनाने के लिए’ पार्टी ने वोट मांगे थे और केन्द्र के साथ आज सत्तासीन है मगर राजस्थान की बात तो दूर बीकानेर के लिए किए गए एक वादे को पूरा नहीं करने को लेकर पार्टी व सरकार पर व्यंग्य करते हुए उसे थोथा बताया गया है। घोषणा पत्र के पृष्ठ 18 पर बिन्दु संख्या 10 पर रेलवे बाईपास को पूरा करने हेतू प्रयास की बात कही गई मगर तीन वर्ष बीतने के बाद भी इसमें कोई सकारात्मक कदम नहीं उठाए गए हैं, इसी क्रम में मातृभूमि फाउण्डेशन सोसायटी ने जिला उद्योग संघ बीकानेर के संयुक्त तत्वावधान में 18 नवम्बर 2011 से पोस्टकार्ड मुख्यमंत्री अशोक गहलोत को भेजे जा चुके हैं।

Report By Sanjay Joshi (Delhi)

Report By Sanjay Joshi (Delhi)

इसी सिलसिले में ‘मातृभूमि’ अध्यक्ष मुकेश अग्रवाल के साथ संघ अध्यक्ष डी. पी. पचीसिया ने एक पे्रस-कॉन्फे्रंस कर कांगे्रस पार्टी व सरकार को आड़े हाथों लेते हुए कहा कि यदि घोषणा पूरी ही ना की जा सके तो उसे करने का भी कोई औचित्य नहीं है। उन्होंने ेकहा कि जब प्रदेश व केन्द्र दोनों जगह कांगे्रस की ही सरकार है तो ‘टालमटोल’ या ‘बहानेबाजी’ औचित्यहीन लगती है। पोस्टकार्ड अभियान के माध्यम से जन-जन का जुड़ाव बनाया गया। पचीसिया ने कहा कि यदि कांगे्रसी घोषणा पत्र को क्रियान्वित किया जाता है तो बीकानेर की ट्रेफिक समस्या जो दिनों-दिन बढ़ रही है काफी हद तक निजात मिलेगी। दिन में 36 बार बंद होने वाले कोटगेट रेलवे फाटक की समस्या का निदान एकमात्र बाईपास ही है। इस बाबतï् आगामी कार्यक्रमों की जानकारी देते हुए अग्रवाल ने बताया कि अगले 15 हजार पोस्टकार्ड कांगे्रस प्रदेशाध्यक्ष (5 हजार), श्रीमती सोनिया गांधी (5 हजार) व रेलमंत्री (5 हजार) को भेजे जाएंगे। अग्रवाल ने बताया कि बीकानेर के सबसे लम्बित और पुराने मामले को लेकर 15 हजार पोस्टकार्ड सीएम को भेेजे जाने के बावजूद ‘संवेदनशीलता’ कहीं नजर नहीं आ रही है। आगामी चुनाव वर्ष 2013 में है ऐसे में हालांकि दो बार बजट पेश होना है अभी भी समय रहते यदि ‘घोषणा’ पर अमल होता है तो यह बीकानेर की जनता के लिए हितकारी होगा। पे्रस-कॉन्फे्रंस में मातृभूमि फाउण्डेशन से जुड़े मनीष नाहटा, पवन पचीसिया सहित अनेक कार्यकर्ता उपस्थित थे।

Pawan Pachisia (Bikaner)

Pawan Pachisia (Bikaner)


घोषणा पत्र में किए वादों की पूर्ति करें : पवन
बीकानेर, 31 दिसम्बर। मातृभूमि फाउण्डेशन के सदस्य व युवा समाजसेवी पवन पचीसिया (9414581530) ने बताया कि देश की सबसे बड़ी व पुरानी पार्टी कांगे्रस को वर्ष 2008 के विधानसभा चुनाव में घोषणा पत्र में किए वादों की पूर्ति करनी चाहिए। उन्होंने बताया कि घोषणा पत्र में कांगे्रस द्वारा बीकानेर की वर्षों पुरानी व सबसे महत्वपूर्ण रेलवे बाईपास के मुद्दे को सही करने की घोषणा की थी लेकिन तीन वर्ष बीत गए हैं अभी तक इस पर कोई पॉजिटिव रिजल्ट नहीं आया है। राज्य सरकार चुनाव में किये वादों की खरी नहीं उतर रही है। प्रेस बयान में पवन ने बताया कि फाउण्डेशन के पदाधिकारियों ने प्रथम चरण में पोस्टकार्ड अभियान चलाया है जिसमें 15 हजार हस्ताक्षर करवाए जा चुके हैं अब शीघ्र ही दूसरा चरण शुरु करते हुए अभियान को और तेज किया जाकर पोस्टकार्ड कांगे्रस की राष्ट्रीय अध्यक्षा श्रीमती सोनिया गांधी को भेजे जाएंगे। विदित रहे कि अब तक फाउण्डेशन के पदाधिकारियों, कार्यकर्ताओं ने पोस्टकार्ड पर हस्ताक्षर करवाए हैं उन पोस्टकार्डों को राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत को भेजे गए थे।
—————————————————————————
Bikaner News, Bikaner Hindi News, D P Pachisia, Pawan Pachisia, Mukesh Agarwal, Postcard Abhiyaan, Matrabhumi Foundation Society, Manish Nahata, Sanjay Joshi

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *



Most Popular

To Top