बीकानेर

विप्र फाउण्डेशन का महाकुंभ 24 से दिल्ली में / परिलक्षित होने लगी समाज में नई चेतना : ओझा

Sushil Ojha (Kolkata-Bikaner)

Sushil Ojha (Kolkata-Bikaner)

बीकानेर, 1 दिसम्बर। राष्ट्रीय एकता, सामाजिक समरसता एवं स्वजातिय गतिशीलता के पवित्र उद्देश्य से संकल्पित संगठन विप्र फाउण्डेशन का तृतीय विप्र महाकुंभ देश की राजधानी दिल्ली में भव्यता और दिव्यता के साथ 24 एवं 25 दिसम्बर 2011 को होगा। शक्तिपुंज मां कात्यायनी के पावन सानिध्य में महरौली-गुडग़ांव रोड़ पर अवस्थित छत्तरपुर मंदिर प्रांगण में होने वाले कार्यक्रम की जानकारी देते हुए विप्र फाउण्डेशन के राष्ट्रीय संयोजक सुशील ओझा ने बताया कि विप्र फाउण्डेशन (विफा) अपने सधे हुए कदमों से, दृढ़ता के साथ उद्देश्य पथ पर अग्रसर है।

Report By Journalist Sanjay Joshi

Report By Journalist Sanjay Joshi

उन्होंने बताया कि 21 महीनों की छोटी सी अवधि में ही विफा ने अभूतपूर्व प्रगति की है। कुल 18 में से 13 जोनों ने अपने अस्तित्व का अहसास कराते हुए जिला एवं चैप्टर स्तर तक गतिविधियां आरम्भ कर दी है। विभिन्न प्रान्तों के 49 शहरों में संस्था के सार्वजनिक कार्यक्रम आयोजित हो चुके हैं। स्कॉलर्स प्रोग्राम के अंतर्गत दो लाख रुपयों तक के ब्याज रहित उच्च शिक्षा ऋण प्राप्त छात्र-छात्राओं की संख्या 51 के आंकड़े को स्पर्श करने जा रही है। सुशील ओझा ने बताया कि प्रति परिवार 50 हजार की राशि के नि:शुल्क स्वास्थ्य बीमा कार्ड, गांवों-ढाणियों तक पहुंचने लगे हैं। इन सबके अतिरिक्त देशव्यापी विप्र समाज में एक नयी चेतना, सकारात्मक सोच एवं परस्पर सहयोग भावना की तीव्रता परिलक्षित होने लगी है, अपेक्षित परिणाम भी आने लगे हैं। ओझा ने यह भी बताया कि समाज के जन-जन में जागरुकता उत्पन्न करने, नित-नूतन प्रतिभाओं को उदï्घाटित करने, नए दिगंतों का अवतरण करने, एक को सबसे-सबको एक से जोडऩे तथा अकुण्ठ भाव से वैचारिक मंथन करने के उद्देश्य से पांच वर्षों तक विप्र महाकुंभ आयोजित किए जाने हैं। 2009 में कोलकाता और 2010 में गुवाहाटी में विप्र समाज का यह महोत्सव अत्यन्त सफलता एवं सार्थकता के साथ सम्पन्न हो चुका है। दिल्ली में इसी माह की 24-25 दिसम्बर को विफा के दो दिवसीय कार्यक्रम में विप्र समाज के सर्वांगीण विकास विशेषत: शिक्षा, रोजगार एवं वैवाहिक सम्बन्धों पर विचार-विमर्श करके सार्थक प्रस्ताव पारित किए जाएंगे। जातीय संकीर्णता से ऊपर उठकर सामाजिक समरसता, गाय-गंगा-ग्रीनरी की रक्षा एवं सांस्कृतिक भ्रष्टाचार मुक्त भारत के निर्माण में विप्र समाज की प्रखर भूमिका पर भी महाकुंभ में मंथन एवं संकल्प ग्रहित किए जाएंगे।
———————————————————————————–
Bikaner News, Bikaner Hindi News, Sushil Ojha (Kolkata-Bikaner), Sushil Ojha, Sanjay Joshi, Journalist Sanjay Joshi, Vipra Foundation, Vifa, Vipra Mahakumbh, Guwahati, Kolkata, Delhi

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *



Most Popular

To Top