बीकानेर

दिल से हंसाने वाला ही कहलाता है ‘कॉमेडीमैन’ : ख्याली / ‘हंसी के खिलाड़ी’ ख्याली ने खोला सैनिक स्कूल / उद्देश्य यही गरीब तबके के बच्चे को मिले बेहतर शिक्षा

khayali saharan, Sheikh Rais Ahmed & Shwetaraj Press Meet in Bikaner.

khayali saharan, Sheikh Rais Ahmed & Shwetaraj Press Meet in Bikaner.

Journalist Rajeev Joshi & khayali saharan in Bikaner.

Journalist Rajeev Joshi & khayali saharan in Bikaner.

Journalist Rajeev Joshi & khayali saharan in Bikaner.

Journalist Rajeev Joshi & khayali saharan in Bikaner.

बीकानेर, 22 नवम्बर। इस सदी के महानायक बिग बी यानि अमिताभ बच्चन से बड़े-बुजुर्गों से लेकर दूसरी-चौथी में पढऩे वाले बच्चे भी बखूबी परिचित हैं। वजह साफ है बिग बी सिनेमा के ऐसे नायक हैं जो दर्शकों को दिल से हंसाते भी हैं। बच्चन जैसी कॉमेडी शायद ही कोई कर पाता है। ऐसी कॉमेडी जिसे एक भरा-पूरा परिवार एक साथ सिनेमाघर या अपने घर पर टेलीविजन स्क्रीन पर देखकर कुछ बातें सीखाते भी हैं। ऐसी ही साफ-सुथरी, संस्कारित हंसी बिखेरने वाले अपने राजस्थान के ही नहीं बल्कि अपने बीकानेर संभाग के हनुमानगढ़ जिले के एक छोटे से गांव के लाडले लाफ्टर चैलेंज शो के चैम्पियन और नामचीन कॉमेडियन ख्याली सहारण भी है। जो समाज को ऐसी ही हंसी बांटने का माद्दा रखते हैं। जो हंसाने वालों को तहजीब के दायरे में सामाजिकता का पाठ भी पढ़ा सके, ऐसी हंसी से गुदगुदाने पर मजबूर करते हैं। जिस प्रकार बिग बी ने सिल्वर स्क्रीन पर हर तरह के चरित्र को जीकर (जीवन्त बनाकर) दर्शकों को अपनी काबिलियत का कायल बनाया है ख्याली सहारण भी समाज के हित में हर उस क्षेत्र पर अपनी हंसी की पिचकारी छोडऩे का प्रयास करते हैं, ताकि राजस्थान ही नहीं देश में समस्त प्रदेशों के लोकजीवन की झलक उनकी हंसी में निखर कर हंसने वाले तक पहुंच सके। मंगलवार को बीकानेर प्रवास के दौरान पत्रकारों से बातचीत करते हुए यहां होटल मरूधर में कहा कि जो अपने आप पर हंसाए वही कॉमेडी है। वे लोगों को हंसाने के लिए किसी और को पात्र नहीं बनाते और वल्गर (फूहड़ता) भी नहीं दर्शाते ऐसी ही हंसी हंसाने का प्रयास करते हैं जो दिल से निकले। पिछले तीन वर्षों से कॉमेडियन के इतने शो वे कर चुके हैं कि सबसे अधिक रियलिटी शो करने पर उनका नाम गिनीज बुक ऑफ रिकॉर्ड्स में भेजा गया है। उन्हें भरोसा है कि सबके आशीर्वाद से सलेक्ट भी वे हो जाएंगे। उन्होंने बताया कि स्टेज शो से उन्हें बेहद मोहब्बत है क्योंकि इसमें एकदम रुबरु होकर वे लोगों को हंसाने का मौका देते हैं। अपने आपको भाग्यशाली मानते हुए वे कहते हैं कि देश में वे ऐसे कॉमेडियन हैं जिनकी पांच फिल्में रिलीज हो चुकी हैं। बचपन में गरीब परिवार से जुड़े ख्याली का शुरु से ही सपना था कि जो शिक्षा गरीबी की वजह से उन्हें सही तरीके से नहीं मिली उससे बेहतर शिक्षा के लिए वे एक ऐसा स्कूल खोलेंगे जिसमें गरीब तबके व जरुरतमंद बच्चे को अच्छी शिक्षा मिले। बरसों की तमन्ना अब साकार होती उन्हें दिख रही है। उन्होंने बताया कि जिस तरह से एक सैनिक को चुना जाता है उससे पूर्व उसे 6 माह या एक वर्ष की ट्रेनिंग दी जाती है ठीक उसी पैटर्न पर पढ़ाई के साथ-साथ उनकी इस ‘सैनिक स्कूल’ में 6 साल की पूर्ण डिफेंस उपलब्ध करवाई जाएगी। बीकानेर संभाग के पीलीबंगा तहसील के सूरतगढ़-रावतसर रोड़ स्थित 18 एसपीडी में है जिसमें सैनिक स्कूल से भी अधिक सुविधाएं प्रदान करने का दावा करते हुए ख्याली ने बताया कि उनकी स्कूल में क्रिएटिव ट्रेनिंग, डांस, म्यूजिक, थिएटर व लैंग्वेज की कक्षाएं भी होंगी। उनकी स्कूल में छठी कक्षा में प्रवेश के लिए आवेदन शुरु हो गए हैं जो 15 जनवरी तक चलेंगे। आवेदन के पश्चात् प्रवेश परीक्षा होगी। प्रवेश परीक्षा पास करने के बाद ही साक्षात्कार होगा। तत्पश्चात् फिजीकल ये तीनों प्रवेश परीक्षा के पास करने वाले छात्र को ही कक्षा में प्रवेश दिया जाएगा। उन्होंने यह भी बताया कि बच्चा अनुशासन में रहे एवं शारीरिक, मानसिक रुप से मजबूत बने जो बच्चा जिस लाईन में रुचि रखता हो उसको वो ही सुविधाएं और प्रोत्साहन दिया जाए जिससे वो उसी दिशा में कामयाब हो सके। पे्रस-कॉन्फे्रंस में ओएसिस इंटरनेशनल स्कूल की मार्केटिंग हैड श्वेताराज व मीडिया कंसलटेंट शेख रईस अहमद भी उपस्थित थे।
—————————————————————————————–
khayali saharan, Sheikh Rais Ahmed & Shwetaraj Press Meet in Bikaner, Bikaner News, Bikaner Hindi News, Rajeev Joshi, Rajiv Joshi, Hournalist Rajeev Joshi, Journalist Rajiv Joshi, Journalist Rajeev Joshi & khayali saharan in Bikaner

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *



Most Popular

To Top