बीकानेर

व्यवहार कुशल बनकर सरकारी योजनाओं का लाभ उठाएं : बजरंग / बीकानेर सर्राफा समिति व जिला उद्योग केन्द्र का कार्यक्रम / ‘125 स्वर्णकारों’ को आर्टिजन परिचय पत्रों का वितरण हुआ

Prem Singh Rathore, D P Pachisia, Bajrang Sony Programme in Bikaner.

Prem Singh Rathore, D P Pachisia, Bajrang Sony Programme in Bikaner.

Bajrang Sony (Bikaner)

Bajrang Sony (Bikaner)

बीकानेर। बीकानेर सर्राफा समिति एवं जिला उद्योग केन्द्र द्वारा श्री मैढ़ क्षत्रिय स्वर्णकार सभा संस्था के सौजन्य से मार्च-2011 में लगाए गए ‘औद्योगिक प्रोत्साहन शिविर’ के तहत आर्टीजन परिचय पत्रों का वितरण वीरवार को यहां जेएनवी स्थित ग्रामीण हॉट में किया गया। प्रधानमंत्री रोजगार सृजन योजना तथा मुख्यमंत्री स्वावलम्बन योजनान्तर्गत ‘आर्टिजन आई कार्ड’ के पंजीयन एवं ऋण आवेदन की समस्त प्रक्रिया को केन्द्र द्वारा समस्त औपचारिकताओं के बाद 125 जनों को प्रथम चरण में प्रदान किया गया। कार्यक्रम में बीकानेर सर्राफा समिति के अध्यक्ष बजरंग सोनी, जिला उद्योग संघ के अध्यक्ष डी.पी.पचीसिया, एसबीबीजे के एजीएम देवेन्द्र कुमार व संतोष कुमार निगम के साथ जिला उद्योग केन्द्र के महाप्रबन्धक प्रेमसिंह राठौड़ ने इसमें भागीदारी निभायी।

Report By Sanjay Joshi (Bikaner)

Report By Sanjay Joshi (Bikaner)

संक्षिप्त कार्यक्रम में समिति अध्यक्ष सोनी ने बताया कि बीकानेर संभाग मुख्यालय पर वैलरी व्यवसाय से 20 हजार लोग जुडे हैं। स्वर्णकार युवकों के लिए आर्थिक महंगाई व सोने के निरन्तर बढ़ते दामों के दौर में कारीगर होने के बावजूद सोने के अभाव में काम से वंचित रह जाता है ऐसे में अब उन्हें ऋण मिलने पर स्वयं के सोने से वह रोटेशन से सुखद काम और जीवनयापन कर सकेगा। इस मौके सोनी ने सभी स्वर्णकार युवकों से बैंकिंग प्रणाली में सभी औपचारिकताओं के साथ ऋण आवेदन में व्यवहार कुशलता को बनाए रखने की अपील भी की। जिला उद्योग संघ के अध्यक्ष डी. पी. पचीसिया ने बताया कि राजस्थान एवं केन्द्र सरकार बेरोजगारों हेतू दस्तकार सहित अनेक योजनाएं संचालित करता है। हाल के बीते वर्षों में केन्द्र ने लोगों में जागरुकता के साथ बेहतरीन प्रयास कर अनेक लोगों को लाभान्वित किया है। पचीसिया ने यह भी कहा कि ऋण लेकर उसका चुकारा समय पर करने से साख विश्वास और भविष्य की संभावनाएं बेहतर बनती है। एसबीबीजे एजीएम निगम ने अपने संक्षिप्त वकतव्य में सभी आर्टिजन परिचय पत्र प्राप्त करने वालों के उजवल भविष्य की शुभकामनाओं के साथ कहा कि बैंक उनके लिए हमेशा सहयोगी बनकर साथ देगा जरुरत उन्हें 2 लाख प्राप्त कर 20 लाख कमाने की रहनी चाहिए। निगम का कहना था कि अच्छे व्यवसायी की पहचान हंसमुख स्वभाव के साथ सहनशीलता होती है। एसबीबीजे एजीएम देवेन्द्र कुमार ने कहा कि सरकार व बैंक स्तम्भ के रुप में क्रियाशील होते हैं। कंधे से कंधा मिलाकर चलें तो किसी भी व्यक्ति के उद्यम और श्रम के विकास में बाधा नहीं आ सकती। इस अवसर पर अध्यक्षीय उद्बोधन में जिला उद्योग केन्द्र के जीएम प्रेमसिंह राठौड़ ने बताया कि जो भी दस्तकार पंजीकृत हुए हैं उन्हें 2 लाख का ऋण बगैर ब्याज के मिलेगा। उनके ऋण आवेदन की बैंकिंग प्रक्रिया को केन्द्र शीघ्र ही पूरा करके बैंकों में भेजेगा। उन्होंने भी ऋण लेकर उसको समय पर किश्तों में भुगतान करने पर साख और छवि को बरकरार रखने की गुजारिश की। उन्होंने किसी भी तरह की समस्या, परेशानी में हरसंभव सहयोग का आश्वासन भी दिया। कार्यक्रम का संचालन केन्द्र के सत्यनारायण व्यास ने किया। जबकि श्री मैढ़ क्षत्रिय स्वर्णकार सभा संस्था के अध्यक्ष तिलोकचन्द सोनी, कैलाश चन्द लावट, छोटूलाल बूटण, दाऊलाल माण्डण, गणेश सहदेवड़ा, बालचन्द कूकरा, मथुराराम सहित अनेक विभागीय कर्मचारी व स्वर्णकार समाज के युवकजन मौजूद थे।
——————————————————————————————————
Bikaner News, Bikaner Hindi News, Bajrang Sony, Bajrang Soni, D P Pachisia, Prem Singh Rathore

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *



Most Popular

To Top