बीकानेर

‘भ्रष्टाचार’ समाप्त करने के लिए हेमन्त करेंगे संघर्ष / एआरटीओ को शीघ्र हटाने की मांग

बीकानेर। राजस्थान ट्रांसपोर्ट कर्मचारी फैडरेशन (इंटक) के मंत्री अहमद गौरी ने राजस्थान के महामहिम गवर्नर शिवराज पाटिल, मुख्यमंत्री अशोक गहलोत, परिवहन मंत्री बृजकिशोर शर्मा को अलग-अलग पत्र फैक्स कर बीकानेर परिवहन कार्यालय में तैनात अतिरिक्त प्रादेशिक परिवहन अधिकारी (एआरटीओ) को शीघ्र हटाने की मांग की है।

Report By Rajiv Joshi

Report By Rajiv Joshi

पत्र में बताया गया कि एआरटीओ ने वर्ष 2000 से लेकर वर्ष 2010 तक के ऑटो रिक्शाओं के वाहन चालकों को अवैध घोषित किया है वहीं बीछवाल परिवहन कार्यालय में ग्रीन कार्ड जो मोटर वाहन अधिनियम में नहीं है गरीब ऑटोचालकों को धमकी भरा संदेश वितरित कर चेतावनी दी है। गौरी ने बताया कि बीकानेर में एक भी अवैध ऑटो रिक्शा नहीं है उनका मुख्य कारण ऑटो रिक्शा चालकों को परिवहन विभाग ने नम्बर दिए है। फैडरेशन के अध्यक्ष हेमन्त किराडू ने बताया कि एआरटीओ आरटीओ के अवकाश पर होने के कारण मनमाने तरीके से आदेश जारी कर रहे हैं जिसे बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। उन्होंने बताया कि गरीब ऑटोचालकों के प्रति जिस भाषा का प्रयोग आरटीओ करते हैं उसका वे स्वागत करते हैं लेकिन एआरटीओ सही नहीं कर रहे हैं। यातायात का एकमात्र साधन ऑटोरिक्शा है जिसे एआरटीओ अवैध करार दे रहे हैं। उन्होंने राजस्थान ए.सी.बी. से भी एआरटीओ की सम्पत्ति जांच की मांग भी की है। किराडू ने चेतावनी दी है कि यदि गरीबों पर हिटलरशाही तरीके से कार्यवाही होगी तो उसका जवाब भी हिटलरशाही तरीके से दिया जाएगा। देश में जहां भ्रष्टाचार के खिलाफ अन्ना हजारे जैसे लोग भ्रष्टाचार समाप्त करने के लिए संघर्ष कर रहे हैं उसी भांति बीकानेर का गरीब, मजदूर भी परिवहन विभाग के खिलाफ हस्ताक्षर अभियान व आमरण अनशन जैसा निर्णय लेगा।
———————————————————————————————
Bikaner News, Bikaner Hindi News, Rajasthan News, Rajasthan Hindi News, Rajiv Joshi, Rajeev Joshi, Hemant Kiradoo

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *



Most Popular

To Top