बीकानेर

नववर्ष समारोह आनन्दोत्साह से मनाया

बीकानेर। श्री जी उपासना संगम द्वारा चैत्र संवत्सर नववर्ष समारोह बडे ही धूमधामपूर्वक एवं आनन्दोत्साह से डा. घनश्याम आचार्य के संयोजन में श्री धरणीधर महादेव मेंं मनाया गया।

Report By Rajiv Joshi (Bikaner)

Report By Rajiv Joshi (Bikaner)

नववर्ष समारोह में प्रखरजी महाराज एवं याज्ञिक सम्राट पंडित भागीरथ ओझा सहित 101 ब्राह्मणों का सम्मान किया गया तथा उन्हें पंचांग का वितरण किया गया जिनका समस्त ब्राह्मणों द्वारा सामूहिक रुप से वाचन किया गया। प्रखरजी महाराज ने कहा कि हिन्दु नववर्ष को ही वर्ष का शुभारम्भ होता है इस तथ्य को वैज्ञानिक भी अब मानने लग गए हैं। हिन्दु नववर्ष मनाने का उद्देश्य जनता में सनातन प्राचीन परम्पराओं का प्रचार-प्रसार करना एवं उन्हें याद दिलाना है। याज्ञिक सम्राट पंडित भागीरथ ओझा, नरोत्तम व्यास ने विचार रखे। पं. घनश्याम आचार्य ने कहा कि विक्रम संवत् सम्राट विक्रमादित्य के नाम से शुरु हुआ है, क्योंकि उनके प्रदेश कोई भी कर्जदार नहीं था। प्राचीन ग्रंथों में ऐसा उल्लेख है कि नववर्ष उसी शासक के नाम से शुरु हो सकता है जिसके प्रदेश में कोई किसी का कर्जदार न हो या यदि कोई कर्जदार होता तो शासक द्वारा उसका कर्जा चुकाया जाता था। उन्होंने बताया कि आज के दिन ही ब्रह्माजी ने सृष्टि की रचना की थी तथा आज ही धरती माता की 1, 95, 58, 85, 113 वीं वर्षगांठ है तथा यह मंगलकामना की कि नववर्ष समस्त जनता के लिए मंगलकारी और समृध्दि लाने वाला हो। श्री जी उपासना संगम की प्राप्त विज्ञप्ति के अनुसार कार्यक्रम में डॉ. के. सी नायक, डॉ. एस. पी. चौहान, डॉ. केदारनाथ, प्रेमरतन जैन, श्याम कोठारी, कन्हैयालाल आचार्य, संजय गोयल, मंगलचन्द गोयल, पवन अग्रवाल, अनिल शर्मा, दाउलाल खुडिया, केशरीसिंह भाटी, मधुसूदन बाना, हरिश मोहता समेत काफी संख्या में गणमान्य नागरिकों ने भाग लिया।
——————————————————————————————————
Bikaner News, Bikaner Hindi News, Rajasthan Hindi News, Rajasthan News, Rajiv Joshi, Journalist Rajiv Joshi

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *



Most Popular

To Top